Breaking News

शादी से पहले क्यों लगाई जाती है दूल्हा दुल्हन को हल्दी ? जानिए इसका कारण और महत्त्व

 हर घर में शादी के अंदर हल्दी की रस्म निभाई जाती है| हिंदू धर्म के अंदर हल्दी की रस्म का विशेष महत्व होता है| इस हल्दी की रस्म के बिना शादी को अधूरा समझा जाता है और यह परंपरा सदियों से चली आ रही है| अब हम में से ज्यादातर लोग इस बारे में नहीं जानते हैं कि शादी के समय में हल्दी क्यों लगाई जाती है और इसका क्या महत्व होता है| आज इस आर्टिकल में हम आपको इसी के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं| आइए जानते हैं इसके बारे में...

हल्दी लगाना
पुराने समय में ब्यूटी पार्लर जैसी चीज नहीं हुआ करती थी| इसके लिए दुल्हन और दूल्हे को खूबसूरत दिखाने के लिए हल्दी का प्रयोग किया जाता था| हल्दी में प्राकृतिक एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो हमारी स्किन के लिए भी फायदेमंद होते हैं| हल्दी के इस्तेमाल से चेहरे की त्वचा में ग्लो बढ़ता है और निखार ज्यादा होता है| क्योंकि शादी के अंदर दूल्हा और दुल्हन बहुत ही स्पेशल होते हैं इसलिए इनके चेहरे पर विशेष रूप से हल्दी लगाई जाती है| इसके अलावा हाथ और पैरों पर भी हल्दी लगाई जाती है ताकि दूल्हा और दुल्हन शादी के अंदर बहुत ही खूबसूरत नजर आ सकें|
हल्दी चेहरे पर लगाने से चेहरे के ऊपर उपस्थित किसी भी प्रकार के दाग और धब्बे खत्म होने लगते हैं और चेहरे की प्राकृतिक चमक बढ़ने लगती है| आपको किसी वजह से चोट या बीमारी होती है तो वह भी हल्दी के इस्तेमाल से ठीक हो जाती है| हल्दी के नियमित रूप से लगाने से आपकी स्किन के अंदर उपस्थित मृत कोशिकाएं धीरे-धीरे बाहर निकलने लगती हैं जिससे आपकी त्वचा में निखार और खूबसूरती दुगुनी गति से बढ़ने लगता है| आप चाहे तो हल्दी का इस्तेमाल बेसन के अंदर मिलाकर भी कर सकते हैं इससे स्किन को बहुत ही ज्यादा फायदा होता है|
हल्दी लगाना
हल्दी पीले रंग की होती है और यह रंग हमारे समाज में बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है| खूबसूरत रंग की वजह से नए जोड़े को हल्दी लगाई जाती है ताकि उनकी जिंदगी की शुरुआत बेहद खूबसूरत हो| आपने देखा होगा कि घर में होने वाली पूजा पाठ हो या घर की स्त्रियों के वस्त्र हो इनमे पीले रंग को विशेष महत्व दिया जाता है|