Breaking News

खाना खाते समय नही बोलना चाहिए जानिए क्यों?

 आपने कई बार लोगों के मुंह से सुना होगा कि खाना खाते समय नहीं बोलना चाहिए. लेकिन क्या आपने सोचा है कि आखिर खाना खाते समय क्यों नहीं बोलना चाहिए? हालांकि इस बात पर ज्यादातर लोग ध्यान नहीं देते हैं और खाते समय भी बात करते रहते हैं. यहां हम आपको आज खाना खाते समय क्यों नहीं बोलना चाहिए? इसके कारण बताएंगे. जिसे जानकर आप भी भोजन करते समय बोलने की आदत जरूर छूट जाएगी.


Third party image reference
आज के भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग सभी काम जल्दी करना चाहते हैं. ऐसे में जल्दबाजी में खाना भी बुरी आदत है.
चलिए जानते हैं खाना खाते समय क्यों नहीं बोलना चाहिए?
* जब हम खाना खाते हैं तो इस समय भोजन में लार मिलती रहती है जो भोजन को पचाने में मददगार होती है. लेकिन जब हम खाते समय बात करते हैं तो हवा हमारे भोजन के साथ पेट में चली जाती है जो पाचन क्रिया को प्रभावित करती है. इसलिए ऐसा भी कहा जाता है कि भोजन को मुंह बंद करके खाना चाहिए. जिससे हवा पेट में न पहुंच सके और पाचन क्रिया बाधित ना हो.
* इसके अलावा आपको मालूम होगा कि हमारे शरीर में सांस लेने के लिए और भोजन को पेट तक पहुंचाने के लिए दो अलग-अलग नलिया मौजूद होती है. एक नाली स्वसन तंत्र की होती है. जिससे हवा सीधे फेफड़ों तक जाती है और दूसरी नली पेट से जुड़ी हुई होती है. जिससे आपके द्वारा सेवन किया गया भोजन पेट तक जाता है.
जब हम खाना खाते समय पेट से जुड़ी नली खुल जाती है और जिसके जरिए भोजन सीधे पेट तक पहुंच जाता है. लेकिन जब हम खाना खाते समय बात करते हैं तो भोजन नली के साथ श्वास नली भी खुल जाती है. ऐसे में भोजन का पाचन नली में फंसने का खतरा अधिक रहता है. अगर गलती से भी भोजन के टुकड़ा ही सांस नली में फंस जाती है तो सांस लेने में दिक्कत होती है. यह स्थिति ज्यादा देर तक रहती है तो व्यक्ति को मृत्यु तक हो सकती है.
इसलिए खाना खाते समय बोलने से मना किया जाता है.