Breaking News

अगर दिखाई दें ये 5 लक्षण तो तुरंत हो जाएं सावधान, देर करना हो सकता है आपके लिए घातक

 अपेंडिक्स आँत का एक टुकड़ा है। इसे डॉक्टरी भाषा में एपिन्डिसाइटिस कहते हैं, मरीज के लिए ही नहीं डॉक्टरों के लिए भी एक समस्या है क्योंकि इसका इलाज इतना आसान नहीं है, इसका कारण यह है कि प्रायः यह सुनिश्चित करना कठिन होता है कि दर्द अपेंडिक्स का है भी या नहीं।

चूँकि हमारे पेट में कई अंग होते हैं, इन अंगों की अनेक बीमारियों में पेटदर्द, बुखार, उल्टी आदि लक्षण समान ही होते हैं। साथ ही पेट के अनेक अंगों व दूसरे रोगों के भौतिक परीक्षण और पूर्व इतिहास भी मिलते-जुलते होते हैं इसलिए अपेंडिक्स को सुनिश्चित करने तथा इसके अंतिम निदान की समस्या प्रायः बनी ही रहती है। फिर भी पूरी तरह परीक्षण किए बगैर मामूली से या अन्य किसी कारण से होने वाले पेटदर्द के निदान के लिए इस अवशेषी अंग को निकाल फेंकना गलत है।
आंत के इस अवशिष्ट टुकड़े का एक सिरा खुला होता है और दूसरा सिरा पूरी तरह बंद। भोजन का कोई कण इसमें प्रवेश कर जाता है तो दूसरा सिरा बंद होने के कारण दूसरी ओर से यह निकल नहीं पाता। इसका परिणाम यह होता है कि अपेंडिक्स संक्रमित हो जाता है। आइये जानते हैं अपेंडिक्स के ये 5 मुख्य लक्षण।

अगर दिखाई दें ये 5 लक्षण तो तुरंत हो जाएं सावधान, देर करना हो सकता है आपके लिए घातक
Image Source : Google
अपेंडिक्स के मुख्य लक्षण

Image Source : Google
1 जब आपके पेट में तेज और असहनीय ऐसा दर्द हो, जैसा कि पहले कभी न हुआ हो, तो आपको तुरंत इसकी जांच कराने की जरूरत है। नाभि से आगे नीचे ओर दाहिने तरफ होने पर होने वाला दर्द ही अपेंडिक्स का दर्द हो सकता है। कई बार यह दर्द या असहजता चलते समय, खांसते समय या कार में बेठे हुए किसी उछाल से भी अचानक हो सकती है। इसका मतलब यह भी हो सकता है कि अपेंडिक्स विस्फोट होने की कगार पर है या फिर फट चुका है। ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

Image Source : Google
2 अगर आप पेट के दाहिने तरफ तेज दर्द के साथ-साथ ऊबकाई, उल्टी, खाने से अरूचि या भूख में कमी महसूस कर रहे हैं, तो यह अपेंडिसाइटिस के खतरनाक लक्षण हो सकते हैं।
3 कई लोगों में अपेंडिसाइटिस पेडू के नीचे भी होता है, जिससे यह मूत्राशय के करीब होता है। ऐसे में अगर मूत्राशय अपेंडिक्स से संक्रमित होता है, तो आप बार-बार पेशाब जाने के लिए प्रेरित होते हैं एवं पेशाब करते समय दर्द होता है।
4 बुखार आना या ठंड लगना जैसी समस्याएं आपके शरीर में किसी प्रकार के संक्रमण की ओर इशारा करती है। अगर आपका अपेंडिक्स संक्रमित है, तो आपका शरीर कई तरह से रसायनों को बाहर निकालकर आपको इसका संकेत देता है। ऐसे में आपको पेट में संबंधित दर्द के साथ तेज बुखार एवं अन्य समस्याएं भी हो रही हैं, तो तुरंत डॉक्टर से बात करें।

Image Source : Google
5 अगर आप ज्यादातर कन्फ्यूज रहने लगे हैं और दिमाग फोकस नहीं कर पा रहा, तो यह इंफेक्शन बिगड़ने का कारण हो सकता है। इस स्थिति में इंफेक्शन बढ़की शरीर के अन्य हिस्सों को रक्त के जरिए प्रभावित करता है और रक्त में ऑक्सीजन की मात्रा भी कम हो जाती है। जरूरी नहीं कि यह अपेंडिसाइटिस से जुड़ा मसला हो, बल्कि कोई ओर गंभीर समस्या भी हो सकती है।
अगर उपरोक्त लक्षण दिखाई दें तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए और इस स्थिति में देर करना जानलेवा हो सकता है।