Breaking News

मास से 10 गुना ताकत मिलती है काले चने से, ऐसे खाएंगे तो शरीर बन जायेगा फौलादी

 दोस्तो आज कल मर्दो में कमजोरी एक बीमारी के समान देखी जा सकती है, कई लड़के अपने पतले पन की वजह से परेशान होते है, लोगो से ताने सुन सुन के ज़िंदगी से नफरत करने लगते है, आज हम आपको बताएंगे कमजोरी छुटकारा पाने का आसान तरीका.


मास से 10 गुना ताकत मिलती है काले चने से, ऐसे खाएंगे तो शरीर बन जायेगा फौलादी
 
पतले पन को दूर करने में बस एक चीज़ आपके बोहोत काम आसक्ति है और वो है काला चना, क्यो की काले चने में प्रोटीन बोहोत ज़्यादा होता है, मास से भी ज्यादा. काला चना लगभग हर घर में बहुत आसानी से मिल जाता है. कुछ लोग इसकी सब्जी बनाकर खाना पसंद करते हैं, कुछ उबालकर खाना, कुछ अंकुरित तो कुछ भूनकर. हम आपको बताते है आपको इसे कैसे खान है.

 
रात को एक ग्लास पानी में एक मुठी भर काले चने को भिगो दे और उसे ढक ले, सुबह देखेंगे तो चने एकदम से फूल गए होंगे, अब आप उन चनों को उबाल ले, बिना उबाले कच्चे चने ज्यादा पचते नही इसलिए बेहतर है चनों को उबाल ले और फिर खाए, आप इसमे हल्का से नामक भी डाल सकते है जिस से चने टेस्टी लगेंगे, ऐसे चने खाने से आपके शरीर का वजन बढ़ने लगेगा.

 
काले चने में भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम और दूसरे मिनरल्स होते हैं. हालांकि चने का इस्तेमाल हर तरह से फायदेमंद है लेकिन अंकुरित काला चना खाना सबसे अधिक फायदेमंद होता है. अंकुरित चना खाने से क्लोरोफिल, विटामिन ए, बी, सी, डी और के साथ ही फास्फोरस, पोटैशियम, मैग्नीशियम की जरूरत भी पूरी हो जाती है. लेकिन अंकुरिय चने तो ही खाइये अगर आपकी पाचन शक्ति अच्छी हो.

Third party image reference
काले चने और भी कई फायदे है चलिए हम आपको बताते है काले चने के और कितने फायदे है.
काला चना फाइबर से भरपूर होता है इस ये पाचन क्रिया के लिए विशेष फायदेमंद होता है. रातभर भिंगोकर रखे गए चने को खाने से कब्ज की समस्या ठीक हो जाती है. साथ ही जिस पानी में चने को भिगोया गया हो उस पानी को फेंकने के बजाय पीने से भी बोहोत फायदा होत है.

Third party image reference
काले चने खाने से मास से भी ज्यादा ऊर्जा मि‍लती है. अगर आप चने को गुड़ के साथ लेते हैं तो ये और अधिक फायदा करेगा. डायबिटीज के मरीजों के लिए भी काले चने का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद रहता है. यदि आप एनिमिक हैं तो चने को अपनी आदत में शुमार कर लें. एनिमिया के मरीजों के लिए काला चना बहुत ही फायदेमंद होता है. इसके साथ ही चने के पानी से चेहरा धोने से चेहरे पर चमक भी आती है.