Breaking News

पहले लड़कियों से करता था दोस्ती फिर अपनी हवस मिटाने के बाद उतार देता था मौत के घाट, अदालत ने सुनाई मौत की सजा


कर्नाटक के मंगलुरु में एक दिल को दहला देने वाली घटना सामने आई है। जिसके लिए यहां की अदालत ने दक्षिण कन्नड़ जिले के बंटवाल में एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की हत्या के जुर्म में दोषी को मौत की सजा सुनाई है। मामला करीब 14 साल पुराना है। आरोप है कि वह महिलाओं से पहले दोस्‍ती करता था और फिर उनके साथ संबंध बनाने के बाद उनकी हत्‍या कर देता था, ताकि उसकी करतूतों के बारे में किसी को भी खबर न हो।


मोहन नाम का वह शख्‍स जिस तरीके से मह‍िलाओं के साथ दोस्‍ती कर अपने मंसूबों को अंजाम देता था, उसके चलते वह 'साइनाइड मोहन' के नाम से भी कुख्‍यात हो गया। उस पर बेंगलुरु के केम्पेगौड़ा बस स्टेशन पर एक महिला के साथ दोस्‍ती गांठने और फिर लॉज में ले जाकर बलात्कार और उसकी हत्या का आरोप साबित हुआ है, जिस मामले में गुरुवार को उसे मौत की सजा सुनाई गई।


अदालत ने मंगलवार को उसे कई अन्‍य अपराधों में भी दोषी ठहराया। गुरुवार को उसे अपहरण के लिए 10 साल, दुष्‍कर्म के लिए 7 साल, जहर देने के लिए 10 साल, डकैती के लिए 5 साल की सजा सुनाई। हालांकि उसकी मौत की सजा पर अमल तभी होगा, जब हाई कोर्ट से इसकी पुष्टि होगी। उसकी मौत की सजा की पुष्टि तक उक्त सभी सजाएं साथ-साथ चलेंगी।