Breaking News

Breaking News: शिवसेना और कांग्रेस के चार नेताओं की हत्या करने आए थे पकड़े गए आतंकी

 


दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की पूछताछ में बब्बर खालसा इंटरनेशनल के गिरफ्तार दो आतंकियों भूपेंदर सिंह और कुलवंत सिंह ने खुलासा किया है कि उन्हें पंजाब में शिवसेना और कांग्रेस के चार नेताओं की हत्या करनी थी। इनमें से वे कांग्रेस के गुरशरण मंड और शिवसेना के निशांत शर्मा की रेकी भी कर चुके थे।

स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस संगठन से जुड़े आतंकी सिखों और खालिस्तान के खिलाफ बोलने वालों को टारगेट करते हैं। ये आतंकी जगतार सिंह हवारा, भिंडरांवाले और दिलावर सिंह आदि को संत कहते हैं।

आतंकी भूपेंदर सिंह और कुलवंत सिंह ने बताया कि उन्होंने कांग्रेस नेता मंड और शिवसेना नेता निशांत के बारे में फेसबुक से भी कई जानकारियां जुटाई थीं। पुलिस अधिकारियों के अनुसार दोनों आतंकी दिल्ली से पंजाब जाकर वारदात को अंजाम देने वाले थे। स्पेशल सेल के एसीपी जसवीर सिंह और इंस्पेक्टर पंकज कुमार की टीम ने इन दोनों को शनिवार रात मुठभेड़ के बाद बुराड़ी से गिरफ्तार किया था।

इस कारण थे दोनों नेता निशाने पर

कांग्रेस के गुरशरण मंड ने कुछ समय पहले पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बुत पर लगी कालिख को अपनी पगड़ी उतारकर साफ किया था। इसके बाद से उन्हें लगातार धमकियां मिल रही थी जिसके कारण उनकी सुरक्षा में पंजाब पुलिस ने गनमैन तैनात किए थे। इसके अलावा निशांत शर्मा शिवसेना हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। वे रेेफरेंडम 20-20, खालिस्तान व गैंगस्टरों के खिलाफ खुलकर बोलते हैं। 2011 में उन्होंने चंडीगढ़ में पूर्व सीएम बेअंत सिंह की हत्या के आरोपी जगतार सिंह हवारा पर भी हमला किया निशांत को पंजाब सरकार ने वाई कैटेगरी की सुरक्षा दी हुई है।