Breaking News

विकास दुबे मामले में बड़ा खुलासा, SSP को पांच लाख दिए जाने का दावा

 PIL urges Supreme Court to disband panel probing killings of Vikas ...

कानपुर के विकास दुबे कांड को लेकर अब भी नए-नए खुलासे होते जा रहे हैं। शहीद सीओ देवेन्द्र मिश्रा और एसपी ग्रामीण की बातचीत का एक ऑडियो वायरल हुआ। इसमें सीओ इस बात की आशंका जता रहे हैं कि पूर्व एसओ ने दबिश की जानकारी विकास दुबे दे दी होगी। वायरल ऑडियो में सीओ यह भी आरोप लगा रहे हैं कि पूर्व कप्तान को पांच लाख रुपए दिए गए थे। इसके अलावा सीओ की पूर्व एसओ विनय तिवारी के बीच बातचीत की दो ऑडियो क्लिप और वायरल हो हुई है। फिलहाल लाइव हिन्दुस्तान किसी भी वायरल ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।

वायरल ऑडियो में सीओ ने एसपी ग्रामीण को बताया कि उसने ही (पूर्व एसओ) विकास दुबे को दबिश की जानकारी दे दी होगी। वह इसलिए नहीं जा रहा क्योंकि उससे कहेगा कि सीओ ने फोर्स लेकर दबिश मारी थी। उन्होंने एसपी ग्रामीण को यह भी बताया कि अब तक एसओ ने फोन करके कह दिया होगा कि दबिश पड़ने वाली है भाग जाओ।


शहीद सीओ देवेन्द्र मिश्रा और एसपी ग्रामीण के बीच की बातचीत के वायरल ऑडियो में सीओ कह रहे हैं कि वादी राहुल तिवारी और आरोपित विकास दुबे का गांव आसपास ही है। दोनों एक ही गांव के हैं, समझ लीजिए। इस पर एसपी ग्रामीण कहते हैं कि गांव में फोर्स लगाने की जरूरत पड़ेगी। सीओ उन्हें बता रहे हैं कि एसओ विनय तिवारी ने कहा है कि बगैर आपके (सीओ) दबिश देने नहीं जाएगा। सीओ एसपी को बताते हैं कि एसओ विनय तिवारी विकास दुबे के पैर छूता है। एसपी ने कहा ऐसा है। तब सीओ ने कहा कि एसओ कहता है कि अपराधी ही अपराधी की सूचना देता है साहब। इसके बाद सीओ ने यह भी कहा कि साहब इसकी यही हरकते थाने में दो चार को मरवा देगी।