Breaking News

JEE और NEET परीक्षा पर शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल का बड़ा बयान


 

शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कोरोना महामारी के बीच इंजीनियरिंग और मेडिकल पाठ्यक्रमों के लिए अखिल भारतीय परीक्षा आयोजित करने के निर्णय पर केंद्र सरकार की ओर से जवाब दिया है। निशंक ने कहा है कि 'परीक्षा के आयोजन के लिए अभिभावक और छात्र लगातार दबाव बना रहे हैं, लोग चाहते हैं कि परीक्षा आयोजित हो।'

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में प्रवेश के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) और मेडिकल पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) अगले महीने आयोजित होने वाली है। लेकिन, कोरोना वायरस  महामारी के बीच नीट-जेईई की परीक्षाओं को टालने की मांग कई राजनीतिक दलों की तरफ से की जा रही है।

'80 प्रतिशत छात्र एडमिट कार्ड डाउनलोड कर चुके हैं'

डीडी न्यूज को दिए एक साक्षात्कार में निशंक ने कहा कि "जेईई के लिए उपस्थित होने वाले 80 प्रतिशत छात्र पहले ही एडमिट कार्ड डाउनलोड कर चुके हैं। हम माता-पिता और छात्रों के लगातार दबाव में हैं, वो पूछ रहे हैं कि हम जेईई और एनईईटी की अनुमति क्यों नहीं दे रहे हैं। छात्र बहुत चिंतित थे। उनके दिमाग में यह चल रहा था कि वे कितने समय तक सिर्फ तैयारी जारी रखेंगे?"