Breaking News

IPS विनय तिवारी ने सुशांत सिंह राजपूत केस पर तोड़ी अपनी चुप्पी, कह दी इतनी बड़ी बात

 

Sushant Case: सुशांत सिंह राजपूत केस(Sushant Case) में सीबीआई की एंट्री के बाद अब बिहार और मुंबई पुलिस की खींचतान अब बंद हो गई है। मुंबई में सुशांत केस की जांच कर रही बिहार पुलिस की टीम पहले ही बिहार लौट गई थी, वहीं अब बीएमसी ने आईपीएस विनय तिवारी को भी छोड़ दिया है।
दरअसल आईपीएस विनय तिवारी बिहार पुलिस की तरफ से अपनी टीम को गाइड करने के लिए 2 अगस्त को मुंबई आए थे, लेकिन 2 अगस्त की रात ही बीएमसी ने आईपीएस अधिकारी के हाथ पर होम क्वारांटाइन की मुहर लगाकर उनके बाहर निकलने पर पाबंदी लगा दी थी।
इसी बीच विनय तिवारी ने एक लीडिंग न्यूजपेपर को दिए इंटरव्यू में कहा है कि क्या छिपाया जा रहा है ये जानना बहुत जरुरी है। साथ ही विनय तिवारी ने अपने इंटरव्यू में मुंबई पर पुलिस पर सहयोग न करने के भी आरोप लगाए। इसके अलावा विनय तिवारी ने इस बात का खुलासा भी किया कि उनकी टीम ने उन सभी लोगों की लिस्ट भी तैयार कर ली थी, जिनसे सुशांत सिंह राजपूत(Sushant Case) का लेन-देन था।
लेकिन काम में सहयोग करने की बजाय बीएमसी ने पटना के सिटी एसपी तिवारी को क्वारांटाइन कर दिया. जिस वजह से जांच अधूरी रह गई। बात दें बिहार पुलिस के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे का आरोप था कि विनय तिवारी को भेजने से पहले उनके अधिकारियों ने मुंबई पुलिस को मेल किया था और इस बारे में जानकारी दी थी, साथ ही ऑफिसर के रहने के लिए आईपीएस मेस में एक कमरे की मांग भी की गई थी, लेकिन मुंबई पुलिस ने उन्हें किसी भी तरह का सहयोग नहीं किया।
वहीं बीएमसी ने विनय तिवारी को जबरन होम क्वारांटाइन कर दिया था. इस मामले के गरमाने के बाद मीडिया में भी बीएमसी के इस कदम पर कई सवाल उठे थे, वहीं 5 अगस्त को जब रिया चक्रवर्ती की याचिका पर सुनवाई हुई, तो उस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने विनय तिवारी को क्वारांटाइन किये जाने को लेकर महाराष्ट्र सरकार को फटकार भी लगाई थी।
हालांकि इसके बावजूद भी बीएमसी विनय तिवारी को छोड़ने के लिए तैयार नहीं थी, लेकिन अब जाकर बीएमसी ने विनय तिवारी को होम क्वारांटाइन से आजाद कर दिया है। आपको बता दें बिहार सरकार ने सुशांत के केस के लिए केंद्र से सिफारिश की थी, जिसे केंद्र ने स्वीकार कर लिया था।
सीबीआई ने इस केस के लिए एसआईटी का गठन किया है, जो इस पूरे मामले की जांच करेगी। साथ ही इस मामले में 7 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है, जिसकी सीबीआई जांच करने वाली हैं। इन सात नामों में रिया चक्रवर्ती और उनकी पूरी फैमिली का नाम शामिल है।
वहीं आज ईडी भी रिया चक्रवर्ती से पूछताछ करने वाला है। रिया ने पहले पूछताछ के लिए जाने से इंकार कर दिया था, लेकिन ईडी ने रिया की मांग को खारिज कर दिया, जिसके बाद अब रिया को ईडी के सामने पेश होना ही होगा।