Breaking News

GOLD पर लगेगा GST, सरकार का बड़ा फैसला

 

सोने की कीमतों में आई गिरावट एक तरफ जहां आम आदमी को राहत दे रही है. वहीं दूसरी तरफ सरकार आम आदमी को झटका देने की तैयारी में है. दरअसल अभी तक जहां आम आदमी को सिर्फ सोने की खरीद पर गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) देना पड़ रहा था. वहीं अब खबरें है कि उसे सोने की ब्रिकी करने पर भी जीएसटी देना पड़ सकता है.

हाल ही में सभी राज्यों के वित्त मंत्रियों की एक बैठक हुई थी. जिसमें राज्यों के वित्त मंत्रियों के एक समूह ने पुराने सोने और आभूषणों की बिक्री पर तीन फीसदी तक जीएसटी लगाने पर चर्चा की है. इस प्रस्ताव पर लगभग सभी की सहमति बन चुकी है.
अब इसे जल्द ही लागू किया जा सकता है. इस बात की जानकारी खुद केरल के वित्त मंत्री थॉमस ने दी है. ये बात तो आप सभी जानते हैं कि सोने की ज्वेलरी को खरीदने पर तरह -तरह के टैक्स चुकाने होते हैं. साथ ही आपको मेकिंग चार्ज पर 3 फीसदी का गुड्स एंड सर्विस टैक्स यानी की जीएसटी चुकाना पड़ता है. लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि सोने की ज्वेलरी बेचने पर भी टैक्स लगता है.
जी हां अगर आप किसी दुकान पर जाकर अपनी सोने की ज्वेलरी बेचते हैं तो वो आपसे ये पूछेगा की आपके पास ये ज्वेलरी कितने समय से है और वो उसके हिसाब से टैक्स काटेगा. हालांकि अभी तक ब्रिकी पर जीएसटी नहीं ली जाती है. जो कि आने वाले समय में आपको देनी पड़ेगी.
सोने की ब्रिकी पर शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन और लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स चुकाना पड़ता है. शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन तब वसूला जाता है, जब ज्वेलरी 3 साल से कम पुरानी होती है. जबकि लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स 3 साल या उससे ज्यादा पुरानी ज्वेलरी पर लगता है. इस टैक्स की दर 20.80 फीसदी तक होती है.