Breaking News

बिहार के DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने BMC पर उठाए सवाल, कहा 'सुप्रीम कोर्ट की भी परवाह नहीं करते!'


अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच करने मुंबई गई SIT टीम लीडर बिहार के IPS विनय तिवारी को जबरदस्ती क्वारंटाइन किये जाने को लेकर सु्प्रीम कोर्ट ने फटकार लगाई। लेकिन, इसके बावजूद BMC की ओर से IPS विनय को क्वारंटाइन मुक्त नहीं किया। जिसपर बिहार के DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट करते हुए अफसोस व्यक्त किया।


गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट करते हुए लिखा कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा ये गम्भीर टिप्पणी की गयी है कि बिहार के IPS विनय तिवारी को मुंबई में ज़बरदस्ती क्वारंटाइन किया जाना ग़लत है फिर भी बीएमसी ने उन्हें अभी तक उन्हें मुक्त नहीं किया है। वे सुप्रीम कोर्ट की भी परवाह नहीं करते! अब इसको आप क्या कहेंगे? अफ़सोस! 


आर-पार के मूड में पटना पुलिस
बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस की जांच करने मुंबई पहुंचे पटना के एसपी सिटी विनय तिवारी को क्वारंटाइन किए जाने को लेकर पटना के रेंज आईजी संजय सिंह के पत्र का जवाब बीएमसी के अफसर ने दिया है। बीएमसी के सहायक कमिश्नर पी वेलरासू ने आईजी को पत्र के जरिये कहा है कि सिटी एसपी को महाराष्ट्र सरकार के नियमों का पालन करना होगा। उन्होंने लिखा है कि बिहार में कोरोना संक्रमण फैला हुआ है। ऐसे में अगर एसपी में भी कोरोना के लक्षण हुए तो उनके जरिये दूसरे अफसरों को भी यह बीमारी फैल सकती है। लिहाजा वे अलग-अलग एप के माध्यम से महाराष्ट्र सरकार के अफसरों के साथ मीटिंग करें। इस पत्र के मिलने के बाद अब पटना पुलिस भी आर-पार के मूड में हैं। रेंज आईजी संजय सिंह ने कहा है कि वे अपने स्तर से दोबारा वहां के अफसरों से बात करेंगे।