Breaking News

CM योगी के तमाम वादों के बावजूद UP में नहीं थम रही आपराधिक घटनाएँ, एक और पत्रकार की गोली मारकर हत्या


सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद राज्य में अपराध का सिलसिला थम नहीं रह है. ताजा मामला राज्य के बलिया जिले (Ballia District) से जुड़ा है. जहाँ सोमवार की देर शाम अपराधियों ने न्यूज चैनल के एक पत्रकार की गोली मारकर हत्या (Journalist Shot Dead in Balia) कर दी. मृतक पत्रकार का नाम रतन सिंह है. बताया जा रहा है कि वे स्थानीय हिंदी न्यूज़ चैनल सहारा समय से जुड़े रहे है. पत्रकार के हत्या से स्थानीय लोगों खासकर पत्रकरों में आक्रोश है. पुलिस ने मामले में मंगलवार की सुबह 6 लोगो के गिरफ़्तारी की जानकारी दी है.

पूरा मामले बलिया जिले के फेफना थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले फेफना कस्बे की है. खबरों के मुताबिक सोमवार रात रतन सिंह को अपराधियों ने उनके घर के समीप ही गोली मार हत्या(Journalist Shot Dead in Balia) कर दी. जिले के पुलिस पदाधिकारी देवेंद्र नाथ ने इस बाबत बताया कि झगड़े के दौरान पट्टीदारों ने पत्रकार रतन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी है. फ़िलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है.
बाद में मंगलवार की सुबह सूबे के अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने बताया कि पत्रकार हत्या कांड मामले में मुख्य आरोपी अरविंद सिंह, दिनेश सिंह और सुनील सिंह समेत 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने हत्या के पीछे जमीन विवाद को वजह बताया है.
अपर मुख्य सचिव(गृह) के बातों को ही दुहराते हुए मामले में डीआईजी (आजमगढ़ रेंज) सुभाष चंद्र दुबे ने बताया कि मृतक एक पत्रकार थे, लेकिन उनकी हत्या के पीछे पत्रकारिता का कोई लेना देना नहीं है. इस वारदात को दो पक्षों के बीच जमीनी रंजिश की वजह से अंजाम दिया गया है. आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है.
उल्लेखनीय है कि बीते कुछ दिनों से उत्तर प्रदेश में अपराधिक घटनाओं में भारी इजाफा देखने को मिला है. इससे पहले पिछले महीने 20 जुलाई को सूबे के गाजियाबाद के विजय नगर में अपराधियों ने अपनी बेटियों के साथ स्कूटी से घर लौट रहे पत्रकार विक्रम जोशी को उनके घर के पास गोली मार दी थी. विक्रम जोशी के साथ ये घटना तब हुई थी जब उन्होंने कुछ दिनों पहले पुलिस में अपने भांजी के साथ छेड़छाड़ की शिकायत की थी. गोली लगने से बुरे तौर पर घायल हुए पत्रकार जोशी ने दो दिन बाद अस्पताल में दम तोड़ दिया था