Breaking News

बड़ी खबर: फेसबुक पर लगे झूठ और नफरत फैलाने के गंभीर आरोप


अमेरिकी समाचार पत्र वॉल स्ट्रीट जर्नल में फेसबुक को लेकर प्रकाशित की गई रिपोर्ट के बाद कांग्रेस ने मुद्दे को लेकर हमला बोला है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विटर पर निशाना साधते हुए लिखा है कि हम लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ नहीं करने देंगे।

राहुल गांधी ने फेसबुक मामले में कांग्रेस द्वारा कंपनी के सीईओ मार्क जकरबर्ग को लिखे एक पत्र को भी ट्वीट किया है। कांग्रेस सांसद ने लिखा, 'पक्षपात, झूठी खबरों और नफरत-भरी बातों को हम कठिन संघर्ष से हासिल हुए लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ नहीं करने देंगे। 'वॉल स्ट्रीट जर्नल' ने खुलासा किया है कि फेसबुक इस तरह के झूठ और नफरत फैलाने का काम करती आई है और उस पर सभी भारतीयों को सवाल उठाना चाहिए।'

राहुल गांधी ने ट्वीट में जिस पत्र को संलग्न किया है, उसे कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल द्वारा पार्टी की ओर से लिखा गया है। इसमें कांग्रेस ने मार्क जकरबर्ग से फेसबुक को लेकर हाल में सामने आए रवैये के बारे में लिखा है। पत्र के अनुसार, 'हमें यकीन है कि आपने 'वॉल स्ट्रीट जर्नल' में 14 अगस्त को प्रकाशित हुई फेसबुक इंडिया द्वारा कंटेंट को लेकर 'पक्षपात और संदिग्ध व्यवहार' करने को लेकर रिपोर्ट पढ़ी होगी।

कांग्रेस के पत्र में लिखा गया है कि रिपोर्ट में फेसबुक इंडिया की लीडरशिप पर बीजेपी का पक्ष लेने का आरोप लगाया गया है। फेसबुक इंडिया पर भारत के चुनाव में दखल दिए जाने के गंभीर आरोप हैं। कांग्रेस ने इस पूरे मामले की फेसबुक मुख्यालय की तरफ से उच्च स्तरीय जांच कराने और जांच पूरी होने तक उसके भारतीय शाखा के संचालन की जिम्मेदारी नई टीम को सौंपने की मांग की है।