Breaking News

एक फेसबुक पोस्ट से बड़क गई बेंगलुरु हिंसा, अंत में पुलिस को चलानी पड़ी गोली


बेंगलुरु में कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के घर पर मंगलवार रात भीड़ ने हमला कर दिया. लाठी-डंडों से लैस भीड़ ने जमकर तोड़फोड़ और आगजनी की. पुलिस के आने पर पथराव किया, जिसमें एडिश्नल पुलिस कमिश्नर समेत 60 पुलिस वालों को चोटें आईं. हालात पर काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी, जिसमें दो उपद्रवियों की मौत हो गई.

इस पूरे बवाल की शुरुआत एक फेसबुक पोस्ट से हुई थी. आरोप है कि कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे ने फेसबुक पर एक भड़काऊ पोस्ट किया था. इस पोस्ट के बाद मंगलवार रात 9.30 बजे भीड़ विधायक श्रीनिवास मूर्ति के घर और पूर्वी बेंगलुरु के डीजे हल्ली पुलिस स्टेशन पर हमला किया.

फेसबुक पोस्ट पर भड़के एक समुदाय के लोगों ने पुलिस की करीब 10 से 15 कारें जला दी. विधायक आवास के कुछ हिस्सों में आग लगा दिया. आधी रात के बाद पुलिस को आगजनी कर रहे उपद्रवियों पर गोली चलाने की इजाजत मिल गई. दरअसल, भीड़ कंट्रोल से बाहर हो गई थी और पुलिस के सामने फायरिंग के अलावा कोई विकल्प बचा नहीं था.