Breaking News

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत में लगातार तीसरे दिन कोई सुधार नहीं, बेटा बोला सब प्राथना करो


भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत में लगातार तीसरे दिन कोई सुधार नहीं हुआ है। सेना के रिसर्च एवं रेफरल अस्पताल ने बुधवार को कहा, प्रणब मुखर्जी की हालत चिंताजनक बनी हुई है और अभी उन्हें वेंटिलेटर पर ही रखा जा रहा है। प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

उनकी मस्तिष्क की सर्जरी हुई थी और दिमाग में जमे खून के थक्के को हटाया गया था। सर्जरी के बाद से ही प्रणब मुखर्जी वेंटिलेटर पर हैं। डॉक्टरों ने बताया कि मंगलवार को उनकी तबीयत और बिगड़ गई थी जिसके बाद से कोई सुधार नहीं दिखा है। 84 वर्षीय मुखर्जी में कोरोना संक्रमण की भी पुष्टि हुई थी।

वहीं उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने बुधवार रात को ट्वीट कर यह जानकारी दी कि "आप सबकी प्रार्थनाओं से मेरे पिता की हालत फिलहाल रक्त प्रवाह के लिहाज से स्थिर है। मैं आप सभी से प्रार्थनाएं जारी रखने की  अपील करता हूं। कृपया उनकी जल्द ठीक होने के लिए दुआ कीजिए। मुखर्जी इस समय सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में भर्ती हैं और लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं।