Breaking News

फिर बंगाल की खाड़ी में बना दबाव, इन इलाकों में हो सकती है भारी बारिश

 

New delhi: एक बार फिर बंगाल की खाड़ी मैं दबाव का क्षेत्र विकसित हुआ है और यह अब ओडिशा, छत्तीसगढ़ को पार करते हुए मध्यप्रदेश और गुजरात तक पहुंचा। इस वजह के कारण मध्यभारत के कई इलाकों पर मानसूनी गतिधियां तेज़ हो गयीं हैं। और कई इलाकों में भारी बारिश भी हुई है। 

दबाव का क्षेत्र बनने से संभावना है कि आज बंगाल की खाड़ी के उत्तरी भागों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उठेगा, जो धीरे-धीरे भड़ते हुए निम्न दबाव में बदल जाएगा जिससे भारी बारिश होने की सम्भावना है। 

इस वजह से देश के पूर्वी और मध्य भागों में मानसून के फिर से तेज़ होने की संभावना बढ़ गयी है। और इसका प्रभाव गुजरात तक देखने को मिल सकता है। वही जुलाई के महीने में खाड़ी में एक भी सक्रिय मौसमी सिस्टम विकसित नहीं हुआ था, लेकिन अगस्त महीने में इस सिस्टम के पूरी तरह सक्रिय होने की संभावना है। जिस वजह से अच्छे मानसून अच्छा होने की उम्मीद की जा सकती है।

वही दूसरी और देश के कई इलाकों में मानसून के हालात बहुतही  चिंताजनक बने हुए हैं। तथा 1 जून से लेकर 5 अगस्त के बीच जहां औसतन 498.3 मिलीमीटर (करीब 20 इंच) वर्षा होती है, वहीं अब तक 1% कम वर्षा होकर 492.9 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। वही दूसरी तरफ बिहार, यूपी तथा महाराष्ट्र में तेज़ बारिश के वजह से जन जीवन बहुत ही अस्त-व्यस्त हो चूका है।