Breaking News

भूकंप आने पर क्या करना चाहिए? जानलें नहीं तो मुश्किल में पड़ सकती है जान


असम में आज तड़के सुबह भूकंप आया, जिसने लोगों की नींद उड़ा दी। असम के सोनितपुर में सुबह 5.26 मिनट पर भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। इस भूकंप की तीव्रता 3.5 मापी गई है। हालांकि, भूकंप के इस झटके में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। 

इससे पहले राजस्थान की राजधानी जयपुर से उत्तर दिशा में 82 किमी  में गुरुवार-शुक्रवार की रात 12.44 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने बताया कि भूकंप की तीव्रता 3.1 थी और इसका केंद्र जयपुर से 82 किमी उत्तर दिशा में था। भूकंप की तीव्रता कम होने की वजह से किसी भी प्रकार की कोई क्षति नहीं हुई है।


भूकंप आए तो क्या करें

भूकंप के दौरान मकान, दफ्तर या किसी भी इमारत में अगर आप मौजूद हैं तो वहां से बाहर निकलकर खुले में आ जाएं। इसके बाद खुले मैदान की ओर भागें।भूकंप के दौरान खुले मैदान से ज्यादा सुरक्षित जगह कोई नहीं होती। भूकंप आने की स्थिति में किसी बिल्डिंग के आसपास न खड़े हों। अगर आप ऐसी बिल्डिंग में हैं, जहां लिफ्ट हो तो लिफ्ट का इस्तेमाल बिल्कुल न करें। ऐसी स्थिति में सीढ़ियों का इस्तेमाल करना ही उचित होता है।

भूकंप के दौरान घर के दरवाजे और खिड़की को खुला रखें। इसके अलावा घर की सभी बिजली स्विच को ऑफ कर दें। अगर बिल्डिंग बहुत ऊंची हो और तुरंत उतर पाना मुमकिन न हो तो बिल्डिंग में मौजूद किसी मेज, ऊंची चौकी या बेड के नीचे छिप जाएं। भूकंप के दौरान लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वो पैनिक न करें और किसी भी तरह की अफवाह न फैलाएं, ऐसे में स्थिति और बुरी हो सकती है।