Breaking News

चीन ने मिलाया पाकिस्तान से हाथ, दोनों के बीच हुई 51 हजार करोड़ डील, बढ़ सकती हैं भारत की मुश्किलें


चीन और पाकिस्तान साथ मिलकर लगातार भारत से जुड़े विवादित क्षेत्रों पर कोई न कोई तरह की गलत हरकत कर ही देते हैं। हालिया खबर के मुताबिक  अब चीन और पाकिस्तान एक साथ मिलकर अपने इकोनॉमिक कॉ़रीडोर के लिए हजारों करोड़ का रेल प्रोजेक्ट करने जा रहे हैं। वहीँ यह प्रोजेक्ट ऐसे जगह से निकलता है जिसे लेकर हमारे देश भारत, चीन और पाकिस्तान के बीच विवाद होते रहना तय है। 

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट में छपी एक खबर के मुताबिक चीन और पाकिस्तान मिलकर 6.8 बिलियन डॉलर्स जोकि 50,980 करोड़ रुपए का एक रेल प्रोजेक्ट शुरू करने जा रहे हैं। इसके अलावा दूसरी और वहीँ बीजिंग और इस्लामाबाद ने  एक साथ मिलकर थाकोट से हवेलियां तक 118 km लंबी रोड बनाई है।  यह एक बड़ी सड़क परियोजना का छोटा हिस्सा है। यह रोड पाकिस्तान के इस्लामाबाद से चीन के शिनजियांग इलाके के काशगर तक मिलेगी। यह नई रोड जम्मू-कश्मीर से चिपके विवादित जगह के बगल से होकर निकलेगी। एक बार यह रोड पूरी तरह तैयार हो गई तो इससे चीन और पाकिस्तान दोनों देशों को जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों पर सीधी नजर रखने की आसानी होगी। 

इस्लामाबाद से काशगर तक जोड़ने वाले हाइवे का Friendship Highway रखा  है।  इस हाइवे की वजह से पाकिस्तान और चीन दोनों ही भारत के कई रणनीतिक हिस्सों पर नजर तो रख ही पाएंगे, साथ ही आपसी परिवहन के रास्ते खोल देंगे। शंघाई म्यूनिसिपल सेंटर फॉर इंटरनेशनल स्टडीज के एक्सपर्ट वांग देहुआ ने बोलै कि पाकिस्तान और चीन के इन यातायात प्रोजेक्ट्स की वजह से भारत में थोड़ी खल बलि मच सकती है। वांग का कहना है कि इस बेचैनी की सबसे बड़ी वजह है भारत के रणनीतिक क्षेत्र जो इस हाइवे से आसानी से निशाने पर लिए जा सकते हैं। 

वांग ने कहा कि पहले इन तीनों देशों के बीच कश्मीर मुद्दा नहीं था. पहले ये सिर्फ भारत और पाकिस्तान के लिए ही मुद्दा था. लेकिन अब ये भारत, पाकिस्तान और चीन तीनों के बीच एक बड़ा मुद्दा बन गया है। लद्दाख को लेकर चीन के दावे को लेकर भारत की तरफ से कई बार कड़े कदम उठाए गए हैं. भारत चीन से भी चिंतित हैवहीँ दूसरी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देश का नया नक्शा जारी किया। जिसमें यह दिखाया गया कि भारत ने जम्मू-कश्मीर पर अवैध कब्जा कर रखा है।  वहीं, भारत सरकार ने पाकिस्तान के इस नक्शे को खारिज कर दिया है।