Breaking News

30 सदस्यीय विशेष जांच दल करेगा केरल विमान हादसे की छानबीन


केरल पुलिस ने निकटवर्ती करीपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सात अगस्त को एअर इंडिया एक्सप्रेस के विमान दुर्घटना मामले की छानबीन के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है । हादसे में पायलट और सह-पायलट समेत 18 यात्रियों की मौत हो गई थी। एक सरकारी विज्ञप्ति में बताया गया कि मलप्पुरम के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जी साबू 30 सदस्यीय टीम की अध्यक्षता करेंगे।

पुलिस ने कहा है कि दुर्घटना वाले दिन ड्यूटी पर तैनात सीआईएसएफ के एक कर्मी के बयान के आधार पर विमानन कानून और भारतीय दंड संहिता की धारा 337, 338 और 304 ए के विभिन्न प्रावधानों के तहत एक मामला दर्ज किया गया है। आईपीसी की धारा 337 के तहत लापरवाही के किसी कृत्य के कारण व्यक्ति की जान को नुकसान पहुंचाने या किसी की निजी सुरक्षा या जान को खतरे में डालने के मामलों से निपटा जाता है।

किसी की जान को गंभीर रूप से खतरे में डालने या निजी सुरक्षा आदि को नुकसान पहुंचाने वाले मामले में धारा 338 लगाई जाती है, जबकि, धारा 304 ए लापरवाही से मौत के मामले में लगाई जाती है। शुक्रवार (7 अगस्त) की रात दुबई से आ रहे विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने पर 18 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

मलप्पुरम के जिलाधिकारी के गोपालकृष्णन ने बताया कि विभिन्न अस्पतालों में भर्ती 14 यात्रियों की हालत गंभीर है । अस्पतालों से 49 यात्रियों को अब तक छुट्टी मिल चुकी है। एअर इंडिया एक्सप्रेस ने रविवार (9 अगस्त) को कहा कि हादसे में जान गंवाने वाले 16 यात्रियों के शवों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया।