Breaking News

एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती धारावी ने जीती कोरोना से जंग, पिछले 10 दिन में नहीं हुई एक भी मौत


एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती धारावी में कोरोना के नियंत्रण में आने के बाद अब मौत का सिलसिला भी थम गया है। अधिकारियों का दावा है कि 10 दिनों में धारावी में एक भी संक्रमित की मौत नहीं हुई। मध्य मुंबई की झुग्गी बस्ती धारावी में एक अप्रैल को पहला संक्रमित मिला था और उसी दिन उसकी मौत भी हो गई थी। धारावी की घनी बस्ती में प्रत्येक झोपड़पट्टी में आठ से दस लोग रहते हैं।

वहीं, जनसंख्या के अनुपात में यहां सार्वजनिक शौचालयों का भी भारी अभाव है। ऐसी स्थिति में यहां सामाजिक दूरी का पालन करना संभव ही नहीं था। फिर भी बीएमसी ने इस इलाके में दो कोविड सेंटर बनाए जिसमें संक्रमितों को भेजा जाने लगा।

बीएमसी के अनुसार धारावी में ट्रिपल टी फार्मूला और ट्रीटमेंट के जरिए कोरोना पर नियंत्रण की कोशिश की गई। धीरे-धीरे यह फार्मूला काम करने लगा। इस बीच, धारावी से सटे माहिम में 200 बिस्तरों का कोविड सेंटर बनाया गया जहां मरीजों को आक्सीजन की सुविधा मुहैया कराई गई। बीएमसी एपडेमिक सेल के अनुसार अब तक धारावी में 256 की मौत हो चुकी है। इसमें से 67 लोग अप्रैल में, 154 मई में, 37 जून में और सात की मौत जुलाई में हुई।