Breaking News

YES बैंक पर मेहरबान SBI, FPO में लगाएगा 1,760 करोड़ रुपये


संकट में चल रहे निजी क्षेत्र के येस बैंक (YES Bank) में सुधार लाने की कोशिशें रंग लाती दिख रही हैं. येस बैंक का एफपीओ लाने की तैयारी चल रही है, इसके पहले ही भारतीय स्टेट बैंक ने उसमें 1760 करोड़ रुपये के निवेश का ऐलान कर दिया है.
येस बैंक ने शेयर बाजार को जानकारी दी थी कि वह करीब 15 हजार करोड़ रुपये जुटाने के लिए फर्दर या फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर (FPO) लेकर आएगा. गौरतलब है कि येस बैंक के रीवाइल प्लान के तहत इसमें भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने पहले से बड़ा निवेश किया है और कई अन्य दिग्गज सरकारी एवं निजी बैंकों ने भी निवेश किया था.भारतीय स्टेट बैंक ने स्टॉक एक्सचेंजों को जानकारी दी है कि उसके सेंट्रल बोर्ड एग्जीक्यूटिव कमिटी (ECCB) ने येस बैंक के FPO में अधिकतम 1,760 करोड़ रुपये के निवेश का ऐलान किया है.
करीब 32 हजार करोड़ के मार्केट कैप वाला येस बैंक जल्दी ही इस एफपीओ के लिए बाजार नियामक सेबी के पास आवेदन करेगा.
येस बैंक की बैठक 10 जुलाई को
येस बैंक ने कहा कि बैंक के निदेशक मंडल की समिति की बैठक 10 जुलाई, 2020 या उसके बाद होगी जिसमें फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर में शेयर कीमत और अन्य चीजों पर विचार किया जाएगा और मंजूरी दी जाएगी.इस साल मार्च में एसबीआई बोर्ड ने येस बैंक में 7250 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दी थी. इससे पहले आरबीआई ने इस बैंक का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया था. एसबीआई के चेयरमैन का कहना है कि येस बैंक में एसबीआई का कुल निवेश 10 हजार करोड़ रुपये से अधिक नहीं होगा.
संकटग्रस्त बैंक को बचाने के लिए नया निदेशक मंडल लगातार कोशिश कर रहा है. बोर्ड ने अब फर्दर या फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर (FPO) के द्वारा बैंक को 15,000 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाने की इजाजत दी है. यह निवेशकों के लिए येस बैंक में सस्ते भाव में निवेश का अच्छा मौका भी होगा.
क्या होता है FPO
जब स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड कोई कंपनी फिर से अपने शेयरधारकों के लिए कुछ शेयर जारी करती है तो इसे फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर या फर्दर पब्लिक ऑफर (FPO) कहते हैं. सबसे पहले जब कोई कंपनी शेयर बाजार में लिस्टेड होने के लिए आम लोगों को शेयर जारी करती है तो उसे इनीशियल पब्लिक ऑफर यानी आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) कहते हैं.
क्या होगा बैंक को फायदा
इस पूंजी के द्वारा बैंक के पूंजी पर्याप्तता में करीब 10 फीसदी की बढ़त की जाएगी. बैंक की बाजार पूंजी करीब 32,317 करोड़ रुपये है. बैंक जल्दी ही बाजार नियामक सेबी और रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज के पास एफपीओ के लिए जरूरी दस्तावेज जमा करेगा.