Breaking News

राजस्थान में SOG की ताबड़तोड़ छापेमारी, दो कार से 1.25 करोड़ बरामद, 3 लोगो को पकड़ा


राजस्‍थान में चल रहा सियासी घमासान खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. जहाँ एक तरफ सीएम गहलोत और सचिन पायलट के बिच सियासी संघर्ष के साथ ही अदालती जंग भी जारी है. वही दुसरे तरफ विधायकों के खरीद-फरोख्त कर सरकार गिराने की साजिश को लेकर वायरल ऑडियो के मामले में राजस्थान पुलिस की स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने जांच को भी तेज कर दिया है. प्रदेश के कई इलाकों में एसओजी ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है. इसी कड़ी में मंगलवार को एसओजी ने बड़ी करवाई की है.
बतौर रिपोर्ट्स, एसओजी की टीम ने उदयपुर में बड़ी कार्रवाई करते हुए 1.25 करोड़ रुपये के साथ 3 लोगों को पकड़ा है. एसओजी ने दो कारों से इतनी रकम बरामदगी की है. एसओजी का कहना है कि मांगीलाल जैन सहित 3 लोगों के पास से यह रकम बरामद की गई है. हालाँकि, बरामद की गई रकम क्या विधयाकों के खरीद-फरोख्त के लिए ही इस्तेमाल होने थे, इसको लेकर एसओजी पकड़े गए लोगों से पूछताछ कर रही है.
वहीं, एसओजी के एडीजी (ADG) अशोक राठौड़ ने इस बाबत मीडिया को जानकारी देते हुए कहा, ‘फिलहाल सभी आरोपियों से रुपयों के बारे में जानकारी ली जा रही है. उदयपुर के सेक्टर-14 में सभी आरोपियों से पूछताछ की कार्रवाई चल रही है. आरोपियों में मांगीलाल, धमकलाल और राकेश हैं. तीनों लोग मुंबई से आए थे. एसओजी हवाला एंगल से भी जांच कर रही है. पुलिस को अंदेशा है कि यह रकम हवाला के जरिए राजस्थान में कही भेजा जा रहा था.
उल्लेखनीय है कि राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से सचिन पायलट सहित कैंप के 19 विधायकों के बागी होने के बाद राज्य में सत्ता संघर्ष जारी है. हालांकि, सीएम अशोक गहलोत ने दावा किया है कि उनकी सरकार बहुमत में है. विपक्षी पार्टी बीजेपी और बागी विधायक सरकार को अल्पमत में होने के दावा कर रहे हैं
उधर, मंगलवार को राजस्थान हाईकोर्ट में बागी विधायकों द्वारा स्पीकर के नोटिस को चुनौती दिए जाने के मामले में सुनवाई पूरा होने के बाद कोर्ट ने 24 जुलाई तक फैसला सुरक्षित रख लिया है. इसके साथ ही कोर्ट ने इस दौरान विधानसभा के अध्यक्ष से बागी गुट के विधायकों पर 24 जुलाई तक कोई कारवाई नहीं करने का अनुरोध किया है.