Breaking News

इंडिया-चाइना बॉर्डर विवाद: लगातार बातचीत के बावजूद LAC पर कम नहीं हो रहा तनाव


भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर जारी तनाव को कम करने के लिए सैन्य और राजनयिक स्तर पर कई दौर की बातचीत हुई। इसके बावजूद लद्दाख के संवेदनशील क्षेत्र में दोनों देश के बीच तनाव को कम करने में सफलता नहीं मिली है। इसके बारे में जानकारी रखने वाले ने बुधवार को कहा है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा के कुछ प्वाइंट्स पर तनाव कम करने की प्रक्रिया लगभग रुकी हुई है।

शीर्ष भारतीय और चीनी सैन्य कमांडरों ने 14 जुलाई को अपनी सेनाओं के बीच तनाव कम करने के लिए रोड मैप पर चर्चा की, लेकिन इसके बावजूद गतिरोध की स्थिति बनी हुई है। इन हिस्सों जमीनी हालात पहले की तरह बने हुए हैं। दोनों सेनाओं ने अपने आगे और गहराई वाले क्षेत्रों में लगभग 100000 सैनिकों को इकट्ठा किया है। नाम नहीं छपने की शर्त पर इस मामले की जानकार अधिकारी ने यह जानकारी दी है।

“पैंगोंग त्सो और डेपसांग सहित एलएसी के साथ लगे तनाव वाले क्षेत्रों में सैनिकों की मौजूदगी बनी हुई है। एक अधिकारी ने कहा कि संघर्ष का एक लंबा दौर अभी खत्म नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि दोनों देश के बीच विवाद सर्दियों के महीनों तक जा सकता और भारतीय सशस्त्र बल इस लंबी दौड़ के लिए तैयार हैं।
Amid LAC standoff with China, Rajnath arrives in Leh to carry out ...

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पिछले सप्ताह संकेत दिया था कि तनाव को हल करने के लिए बातचीत की प्रक्रया जटिल है। अपनी लद्दाख यात्रा के दौरान उन्होंने कहा कि वार्ता में प्रगति से सीमा विवाद को हल करने में मदद मिलनी चाहिए, लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि वह इस बात की गारंटी नहीं दे सकते हैं कि स्थिति को किस हद तक हल किया जाएगा।