Breaking News

पत्रकार विक्रम जोशी के परिवार का बड़ा फैसला, पार्थिव शरीर लेने से किया इंकार, वजह जानकर चौंक जाएँगे

गाजियाबाद के विजय नगर इलाके में गोली लगने से घायल पत्रकार विक्रम जोशी की मौत हो गई है. यशोदा अस्पताल में पत्रकार विक्रम जोशी का इलाज चल रहा था. विक्रम जोशी को विजय नगर इलाके में बदमाशों ने घेरकर गोली मारी थी. विक्रम जोशी पर हमला भांज से छेड़छाड़ की शिकायत करने पर बदमाशों ने किया था.
न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए विक्रम जोशी के भांजे का कहना है कि कमाल-उ-दीन के बेटे सहित कुछ लड़के मेरी बहन के साथ छेड़छाड़ करते थे. मेरे मामा घर आ रहे थे, जब कमाल-उ-दीन के बेटे ने उन पर हमला किया और उन्हें गोली मार दी. मुख्य आरोपी के पकड़े जाने तक हम अपने मामा के पार्थिव शरीर को नहीं लेंगे.
एएनआई से बात करते हुए विक्रम जोशी के भांजे ने कहा कि मेरा घर माता कॉलोनी में है. मेरी बहन पर ये लोग कमेंट करते थे. मेरे मामा ने विरोध किया. इसके बाद कमाल-उल-दीन के लड़के ने मेरे मामा के सिर में गोली मारी है. मामा मेरी बहन के बर्थडे को सेलिब्रेट करने आ रहे थे और बीच में ही बदमाशों ने घेरकर गोली मार