Breaking News

भारत की चीन को खुली चुनौती, मोदी सरकार घर में घुसकर बनाएगी सड़क


भारत भूटान के यती क्षेत्र में एक सड़क बनाने की योजना बना रहा है. इससे गुवाहाटी और अरुणाचल प्रदेश के तवांग की दूरी 150 किलोमीटर घट जाएगी. भूटान के यती क्षेत्र को चीन ने हाल ही में अपना अधिकार जताया था. यह सड़क बन जाने से भारत को रणनीतिक तौर पर फायदा होगा. क्योंकि यह चीन की सीमा से लगती हुई निकलेगी.

Know The Galwan Valley Where India-China Clashes Have Taken Place ...

यह सड़क बन जाने के बाद भारत चीन से कई गुना ज्यादा तेजी से अपनी सीमाई इलाकों में फौज तैनात कर सकती है. सिर्फ तवांग ही नहीं, बल्कि पूरे भूटान के पूरे पूर्वी इलाके और उत्तर पूर्वी राज्यों की चीन से सटी सीमाओं पर सेना जल्दी पहुंच सकती है.

चीन ने जहां जताया था अपना अधिकार, अब ...

अंग्रेजी अखबार इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के अनुसार, भारत सरकार ने बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन को सड़क बनाने का काम सौंप दिया है. यह सड़क तवांग के पास स्थित लुमला को भूटान के त्राशीगांग से जोड़ेगा. यहां से थिंपू नजदीक हो जाएगा. साथ ही भारतीय सीमा भी. इससे भारत और भूटान की सुरक्षा बढ़ जाएगी. साथ ही कनेक्टिविटी भी बढ़ेगी.