Breaking News

दिल बेचारा का ये डायलॉग सुनकर फैंस को फी आ गई सुशांत सिंह राजपूत की याद

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा का ट्रेलर रिलीज हो चुका है. इस ट्रेलर पर फरहान अख्तर, कृति सेनन, सयामी खेर, सिद्धार्थ मल्होत्रा जैसे कई सितारों ने अपनी प्रतिक्रियाएं भी दी हैं और सोशल मीडिया पर भी ये ट्रेलर काफी ट्रेंड कर रहा है. हालांकि इस ट्रेलर में एक डायलॉग है जो काफी चर्चा में है और जिसके चलते फैंस सुशांत को लेकर काफी इमोशनल फील कर रहे हैं.
Dil Bechara' and the long tradition of the posthumous release
दिल बेचारा के ट्रेलर को देखकर फैंस हो रहे इमोशनल
इस ट्रेलर में कई ऐसे लम्हें हैं जिन्हें देखकर फैंस काफी इमोशनल हो जाते हैं. हालांकि एक डायलॉग ऐसा है जो ना केवल काफी अच्छा लिखा गया है बल्कि सुशांत के साथ हुई त्रासदी के बाद काफी प्रासंगिक भी बन पड़ा है. सुशांत कहते हैं कि 'जन्म कब लेना है और मरना कब है ये हम डिसाइड नहीं कर सकते, पर कैसे जीना है वो हम डिसाइड कर चुके हैं.'
Make Dil Bechara highest watched movie ever': Bollywood showers ...
कई फैंस ने इस डायलॉग पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सुशांत खुद फिल्म में कह रहे हैं कि जन्म लेना और मरना इंसान के हाथ में नहीं है तो उन्होंने खुद से मरने का इतना बड़ा फैसला आखिर क्यों ले लिया? इसके अलावा एक और डायलॉग जो फैंस के बीच चर्चा में है वो है- 'प्यार हमें उम्मीद देता है' और 'प्यार हमारी जिंदगी बेहतर बनाता है'