Breaking News

कोरोना से जूझ रहे अमेरिका पर मौसम की मार, 'हन्ना' तूफान ने लिया विकराल रूप


अमेरिका में कोरोना महामारी के प्रकोप के बीच टेक्सास में खाड़ी तट पर हन्ना तूफान के पहुंचने से 145 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं और तेज बारिश हो रही है। कई हिस्सों में बाढ़ का खतरा है। इस तूफान के कारण रियो वैली में तबाही का मंजर देखने को मिला और घाटी की सूरत बदल गई। कई जगह पेड़ उखड़ने के साथ कई नावों को भी नुकसान पहुंचा। तूफानी हवाओं के कारण बिजली आपूर्ति भी प्रभावित हुई है।

2020 अटलांटिक तूफानी सत्र का पहला तूफान शनिवार को एक घंटे से भी कम समय में श्रेणी एक के तूफान के रूप में दो बार आया। सबसे पहले तूफान कॉर्प्स क्रिस्टी से दक्षिण में करीब 130 मील दूर पोर्ट मैन्सफील्ड के उत्तर में करीब 15 मील पर शाम करीब 5 बजे आया। इसके बाद यह पोर्ट मैन्सफील्ड के उत्तर-पश्चिमोत्तर में करीब 15 मील दूर पूर्वी केनेडी काउंटी में शाम करीब 6 बजकर 15 मिनट पर दस्तक दी।
Hurricane Hanna Storm to hit Texas coast on Sunday alert issued

ब्राउन्सविले में राष्ट्रीय मौसम सेवा के मौसम वैज्ञानिक क्रिस बिर्चफील्ड ने कहा कि निवासियों को सतर्क रहने की आवश्यकता है। साथ ही तूफान के कारण 70 मील प्रति घंटे (115 किलोमीटर प्रति घंटे) की रफ्तार से हवाओं के कारण समुद्र में ऊंची लहरें उठने की आशंका है जिससे मौजूदा स्थितियां बिगड़ सकती हैं।
मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि हन्ना के कारण 15 से 30 सेंटीमीटर तक बारिश होने की संभावना जताई है। वहीं कुछ स्थानों पर 46 सेंटीमीटर तक बारिश हो सकती है। कॉर्प्स क्रिस्टी तट के निकट रहने वाली शेरी बोएहमी (67) ने कहा कि वह महामारी के कारण पहले से चिंतित थीं और तूफान ने उनकी चिंता और बढ़ा दी है। हन्ना से करीब तीन साल पहले हार्वे तूफान ने यहां तबाही मचाई थी। हार्वे के कारण 68 लोगों की मौत हो गई थी।