Breaking News

पता नहीं हमारे प्यारे देश को किसकी नजर लग गई, आ रही हैं एक के बाद एक नई मुसीबतें


कोरोना महामारी देश में जहां एक ओर विकराल रूप धारण करती जा रही है तो दूसरी ओर संक्रमित मरीजों को अपने इलाज के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है. बिहार में तो स्थिति खराब होती दिख रही है क्योंकि यहां पर कोरोना संदिग्ध मरीज अस्पताल के बाहर पड़े हुए हैं और उनका इलाज कराने के लिए काफी मिन्नतें की जा रही हैं.
ऐसा ही एक नया मामला है राज्य के सीवान जिले का. सीवान के सदर अस्पताल से फिर एक मानवता को शर्मसार करने वाली एक तस्वीर सामने आई. एक महिला सुबह से सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के ठीक आगे गिरी पड़ी थी. सुबह से लगातार बारिश हो रही थी और वह महिला लगातार भीग भी रही थी, लेकिन अस्पताल प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ था.
हालांकि, सिविल सर्जन यदुवंश शर्मा से जब इस पूरे मामले को जानने की कोशिश की गई तो उन्होंने साफ कर दिया कि वह कोरोना मरीज नहीं है. सीएस शर्मा ने यह भी कहा कि डीएम के द्वारा मुझे सूचना दी गई और हमने तुरंत संज्ञान लिया.