Breaking News

दिल्ली में अपने चरम पर पहुँच चुका है कोरोना वायरस, AIIMS के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने किया खुलासा


एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 का पीक बीत चुका है, जबकि कुछ राज्यों में पीक पर पहुंचना बाकी है। उन्होंने कहा कि अब दिल्ली में केस घटेंगे। गुलेरिया ने यह भी कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर कम्युनिटी ट्रांसमिशन को लेकर अधिक सबूत नहीं है। 

डॉक्टर गुलेरिया ने सोमवार को प्रेस कांन्फ्रेंस में कहा, ''कुछ इलाकों में कोविड-19 का पीक आ चुका है। दिल्ली में ऐसा इसलिए लग रहा है क्योंकि केस काफी घट गए हैं। कुछ राज्यों में केस अभी भी बढ़ रहे हैं उनमें पीक कुछ बाद में आएगा।'' राष्ट्रीय राजधानी में पिछले एक महीनों में कोरोना केस काफी तेजी से बढ़े और अब इनमें कमी आ रही है। एक्टिव केस भी काफी कम रह गए हैं। 
गुलेरिया ने यह भी कहा कि दिल्ली में ही कुछ हॉटस्पॉट हैं जहां केस बढ़ रहे हैं और संभव है कि उन इलाकों में लोकल ट्रांसमिशन हो रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक दिल्ली में अब तक 1 लाख 22 हजार 793 केस हैं। दिल्ली में अब 1601 एक्टिव केस हैं। यहां अब तक 3628 लोगों की मौत हुई है। एक लाख से अधिक लोग डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।
सोमवार को देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 11 लाख से पार चली गई। 24 घंटे में रिकॉर्ड 40,425 केस मिले और 681 लोगों की मौत हो गई। देश में अब तक 7 लाख मरीज रिकवरी हुए हैं और 3 लाख 90 हजार एक्टिव केस हैं।
एम्स डायरेक्टर ने आगे कहा कि भारत सहित दक्षिण पूर्व एशिया में मृत्यु दर यूरोपीय देशों इटली, स्पेन और अमेरिका के मुकाबले काफी कम है। गुलेरिया ने कहा, ''यदि आप दक्षिणपूर्व एशिया के आंकड़ों पर नजर डालें तो मृत्यु दर इटली, स्पेन और अमेरिका से बहुत कम है।