Breaking News

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कर्मभूमि गोरखपुर में फिरौती के लिए 5वीं के छात्र को मौत के घाट उतारा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कर्मभूमि गोरखपुर में पांचवीं कक्षा के एक छात्र की अपहरण कर हत्या कर दिए जाने की घटना सामने आई है. बच्चे को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराने का ऑपरेशन चला रही स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने बच्चे का शव बरामद कर लिया है. बदमाशों की तलाश की जा रही है.
जानकारी के मुताबिक गोरखपुर के एक पान विक्रेता के बेटे का 26 जुलाई को अपहरण कर लिया था. अपहरणकर्ताओं ने पान विक्रेता से एक करोड़ की फिरौती मांगी थी. मुख्यमंत्री की कर्म भूमि में अपहरण की घटना सामने आने पर हरकत में आई पुलिस ने बच्चे की बरामदगी के लिए कई टीमें गठित कर दीं. बच्चे को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराने के लिए एसटीएफ को भी एक्टिव कर दिया गया. पुलिस टीम और एसटीएफ छापेमारी करती रही और अपहर्ताओं ने बच्चे की हत्या कर दी.
Gorakhpur Police Unable To Control Increasing Crime Rate ...
एसटीएफ ने बच्चे का शव बरामद कर लिया है. पुलिस के मुताबिक रविवार की शाम 5 बजे के आसपास ही बच्चे की हत्या कर दिए जाने की आशंका है. इस घटना को लेकर विपक्षी कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला बोला है. प्रियंका ने ट्वीट कर सवाल किया है कि क्या यूपी के मुखिया ने खबरें देखना छोड़ दिया है? क्या गृह विभाग में बैठे लोगों के सामने ये खबरें नहीं जाती?