Breaking News

जुनून: माता-पिता से मिलने के लिए 48 दिन साईकिल चलाकर तय किया 2000 किलोमीटर का सफर पार किए 5 देश


कोरोनावायरस के कारण लॉकडाउन के दौरान कई अजीबोगरीब चीजें देखने को मिली हैं। जिन चीजों के बारे में कोई कभी सोच भी नहीं सकता था वो हो गईं। लॉकडाउन के दौरान सार्वजनिक परिवहन के साधन भी बंद रहे। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी कैंसल हैं। इस वजह से सैकड़ों लोग पैदल ही अपने घरों की ओर चले गए, जो पैदल नहीं गए उन्होंने दूसरा सहारा लिया।
2 हजार किलोमीटर का लंबा सफर 
कुछ लोगों ने तो अपने साधन से इतनी अधिक दूरी कर ली कि वो अपने आप में अचरच करने वाला हो गया। ऐसा ही एक ताजा मामला लंदन के स्कॉटलैंड से सामने आया है। स्कॉटलैंड में रहने वाले एक स्टूडेंट को अपने घर में रह रहे माता-पिता की इतनी याद आई कि उसने साइकिल से ही 2000 किलोमीटर का सफर तय कर डाला, वो 48 दिन तक साइकिल चलाकर अपने माता-पिता के पास पहुंचा। अपने बेटे को सामने देखकर माता-पिता की आंखों में आंसू भर आए। स्टूडेंट का नाम क्लेन पापादिमित्रिउ है। वो स्कॉटलैंड के एबरडीन में एक यूनानी छात्र है। 
Lockdown 48 days borders of 5 countries and a students journey of ...
20 साल के पापादिमित्रियो, एबरडीन विश्वविद्यालय में इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे हैं। कोरोनावायरस का प्रकोप फैलने की वजह से सभी जगहों पर स्कूल कॉलेज और पढ़ाई लिखाई बंद है। पढ़ाई बंद हो जाने के बाद उसके पास काफी समय बच गया, इसका सदुपयोग करने के लिए उसने योजना बनाई। योजना के तहत ये प्लान बनाया कि अब वो मोटर साइकिल से कोरोनाग्रस्त यूरोप से बाहर चला जाएगा।