Breaking News

कोरोना की दावा खोजकर रातोंरात करोड़पति बन गए ये 3 लोग


कोरोनावायरस की दवा की (corona vaccine) खोज में इस वक्त पूरे विश्व के वैज्ञानिक जुटे हुए है। इस बीच ब्रिटेन से एक हैरत में डालने वाला किस्सा सामने आया है। कोरोना (Corona) की एक दवा (Vaccine) की खोज से ब्रिटेन के विश्वविद्यालय के तीन प्रोफेसर रातोंरात करोड़पति बन गए। प्रोफेसर रटको जुकानोविक, स्टीफन होलगेट और डोना डेविस की कंपनी सिनैरजेन (Synairgen) के शेयरों में एक ही रात में भारी उछाल देखा गया। अब तक, शेयर की कीमत में 3 हजार प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

बता दे कि प्रोफेसर रटको ज़ुकानोविक, स्टीफन होलगेट और डोना डेविस ने मिलकर सिनैरजेन नामक एक कंपनी बनाई। इसी कंपनी ने कोरोना वायरस (Coronavirus vaccine) की दवा बनाने की कोशिश की और दवाई के परीक्षण में इस नतीजे पर पहुंचे कि जिन रोगियों को दवा दी गई उन मरीजों में से 79 प्रतिशत मरीजों की गंभीर रूप से बीमार पड़ने की संभावना काफी कम रही।


दरअसल साउथेम्प्टन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के इन तीन प्रोफेसरों ने लगभग 20 साल पहले एक खोज की थी। जिसमें उन्होंने पाया कि अस्थमा और पुरानी क्रोनिक यानि लंग्स की बीमारी वाले रोगियों में इन्टरफेरोन बीटा नामक प्रोटीन की कमी होती है। यह प्रोटीन आम सर्दी से लड़ने में मददगार होता है। प्रोफेसरों ने पता लगाया कि अगर इस प्रोटीन की कमी की पूर्ति कर दी जाए तो यह वायरल संक्रमण से लड़ने में भी असरदार होगा।
 सिनैरजेन (Synairgen) कंपनी 2004 में स्टॉक मार्केट में आई 
इन तीने प्रोफेसरों ने अपनी खोज को दवा में बदलने के लिए सिनैरजेन (Synairgen) नाम की एक कंपनी बनाई। यह कंपनी 2004 में ही शेयर मार्किट मे कदम में रख चुकी थी। लेकिन कोरोना महामारी शुरू होने के बाद, कंपनी ने फरवरी और मार्च में इंटरफेरॉन बीटा प्रोटीन दवा SNG001 का क्लिनिकल ट्रायल शुरू किया। आपको बता दें कि परीक्षण के प्रारंभिक परिणाम इस सप्ताह प्रकाशित किए गए थे।

आपको जानकर हैरानी होगी कि परीक्षण में पाया गया कि इस दवा के देने से मरीज के ठीक होने की संभावना 2 से 3 गुना बढ़ गई। इस दवा के ट्रायल में 101 लोगों को शामिल किया गया था। परीक्षण के परिणाम प्रकाशित होने के बाद 21 जुलाई को कंपनी के स्टॉक्स में अचानक से तेजी से आ गई। कंपनी में मात्र 0.56% से 0.59% हिस्सेदारी होने की वजह से शेयर की कीमत बढ़ने के कारण तीनों प्रोफेसर रातों-रात15 से 16 करोड़ रुपये के मालिक बन गए।