Breaking News

बिहार में जारी बाढ़ का कहर, 11 जिलों के 12 लाख 80 हजार लोग प्रभावित


बिहार के 11 जिलों के 12 लाख 80 हजार लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। राज्य में 442 सामुदायिक किचेन चल रहे हैं, जिनमें एक लाख 75 हजार लोग प्रतिदिन भोजन कर रहे हैं। आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्र डू ने यह जानकारी दी। वहीं उत्तर बिहार में लगातार हो रही बारिश का दौर रविवार को थमने के बावजूद चंपारण और मिथिलांचल में बाढ़ से तबाही मची हुई है। 

मुजफ्फरपुर के आसपास के इलाके में भी संकट बरकरार है। पूवी चंपारण में तेतरिया के लहलादपुर में गंडक नदी का बांध टूट गया। दरभंगा के केवटी में डुमरी गुठली बांध करीब दस फीट में टूट गया। पिछले एक हफ्ते टूटे बांधों की अभी मुकम्मल मरम्मत नहीं हो सकी है। ऐसे में जलदबाव बढ़ने पर इन बांधों के आगे के भी हिस्से में टूट की आशंका बनी हुई है। दूसरी तरफ घरों में बाढ़ का पानी घुसने से हजारों पीड़ित एनएच, बांध और अन्य ऊंचे स्थानों पर शरण लिये हुए हैं।
Bihar flood toll rises to 67; over 48 lakh affected | India News ...

गंडक में कटाव तेज होने से मुजफ्फरपुर के मीनापुर में बीस से अधिक गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है। मुजफ्फरपुर-शिवहर एसएच पर भी पानी चढ़ गया है। पानी के बहाव में और तेजी आने से आवागमन प्रभावित है। शहर के अहियापुर, शहबाजपुर, चंदवारा समेत कई निचले इलाकों में पानी घुसा हुआ है। औराई, कटरा, गायघाट, पारू, साहेबगंज आदि बाढ़ प्रभावित प्रखंडों में लोगों की मुश्किलें बढ़ी हुई हैं।