Breaking News

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का बड़ा बयान, बोले- अगले साल तक आ जाएगी वैक्सीन, चिंता करने की जरूरत नहीं

141796-efrhoebgcm-1590212373
भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं. हर रोज 15,000 से अधिक मामले दर्ज हो रहे हैं और लगभग 400 लोगों की मौत हो रही है. इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने मीडिया से खास बातचीत में कहा है कि लोगों को अब चिंता करने की जरूरत नहीं है. दुनिया के अन्य देशों की तुलना में कोविड-19 (covid-19) को लेकर भारत का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है. हमने कोरोना टेस्टिंग (corona virus testing) बढ़ाई और मृत्यु दर भी देश में काफी कम है. उन्होंने कहा कि अगले साल यानी 2021 तक कोविड-19 की वैक्सीन (corona virus vaccine) आ जाएगी. अन्य गंभीर बीमारियों की तरह कोविड-19 भी रह जाएगा. लेकिन हमें अपनी जीवनशैली में कई बदलाव करना पड़ेगा.
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि, देश में कोविड-19 (covid-19) का पहला केस 30 जनवरी को सामने आया था. और भारत की कुल आबादी करीब 135 करोड़ है. अब तक दर्ज हुए 5 लाख केस (corona cases in india) में से लगभग 3 लाख केस तो पूरी तरह से ठीक होकर अपने घर लौट चुके हैं. उन्होंने कहा कि भारत में 3% मृत्यु दर है, जो अन्य देशों की तुलना में काफी कम है. भारत से ज्यादा ब्राजील, यूके और अमेरिका की मृत्यु दर (corona death rate) है.
डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि, हमने देश में कोरोना टेस्टिंग की क्षमता को बढ़ाया है. 5 महीने पहले जहां देशभर में एक लैब थी और आज करीब 1036 लैब में कोरोना टेस्टिंग की जा रही है. कल भी हमने 2 लाख से ज्यादा टेस्ट किए. हम कोरोना टेस्टिंग को प्रमोट कर रहे हैं, ताकि कोई भी संक्रमित मरीज छूटना नहीं चाहिए.
डॉ हर्षवर्धन ने आगे कहा कि, कई एक्सपर्ट्स का दावा था कि भारत में जून अंत तक 300 मिलियन कोरोना (corona cases in india) मामले होंगे. दुनिया के अन्य देशों के मुकाबले भारत में कोरोना वायरस (corona virus) के काफी कम केस हैं. भारत से ज्यादा रिकवरी दर सिर्फ रूस की है. हम अभी बेहतर स्थिति में हैं. लोगों को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है.