Breaking News

COVID-19: लॉकडाउन के बावजूद देश में लगातार क्यूँ बढ़ रही कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या?


देश में फैल रहे कोरोना के संक्रमण को देखते हुए सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा कर दी, हालांकि अब लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा दिया गया है. बता दें 24 मार्च को सबसे पहले 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की गई थी, उसके बाद जब कोरोना के संक्रमण में कोई सुधार नहीं आया तो दूबारा से 13 अप्रैल को लॉकडाउन 2.0 की घोषणा की गई, और अब इस अवधि को बढ़ाते हुए लॉकडाउन 3 की घोषणा 17 मई तक कर दी गई है. बता दें देश में पहली बार एक ही दिन यानि इस शनिवार को कोरोना के 2500 मामलें सामने आए हैं, हालांकि इसमें मरने वालों की संख्या 93 रही.
 अगर कोरोना के कुल आंकड़ो पर जोर दिया जाए तो 40,000 के करीब मामलें सामने आ चुके हैं, और इनमें मरने वालों की संख्या 1300 से ऊपर हो गई है. हालांकि शनिवार को सामने आए कोरोना के मामलों को देखने के बाद भी अगर आश्चर्य ना हो तो कोई गलत बात नहीं है, क्योंकि आए दिन कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढोतरी देखने को मिल रही है.
 बता दें देश के सात राज्यों  काय सबसे ज्यादा योगदान है इन मामलों के बढ़ने में, तो वहीं कोरोना के मालमें बाकी राज्यों में मामूली रही. कोरोना से मरने वालों की संख्या महाराष्ट्र और गुजरात में सबसे ज्यादा देखने को मिली. एक ही दिन में 37 लोगों के मरने की खबर महाराष्ट्र से आई तो वहीं 26 लोगों के मरने की खबर गुजरात से आई.
तो वहीं 231 मामलें तमिलनाडु से सामने आए हैं, जिससे 2757 कुल आंकड़े पहुंच चुके हैं. महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश और दिल्ली के बाद अब पांचवे नंबर पर पहुंच चुका है तमिलनाडु, जहां से कोरोना के ज्यादा मामलें सामने आए हैं. तो वहीं दिल्ली में शनिवार को नए मामलें 384 के पार देखने को मिले ऐसे में दिल्ली में चार हजार का आंकड़ा पार हो चुका है.