Breaking News

तो इस कारण PM मोदी ने देशवासियों से की दिया जलाने की अपील, सच्चाई जानकर हर भारतीय को गर्व होगा


पीएम मोदी कोरोना भगाने को नही, बल्कि इसलिए देशवासियों से की दीया, मोमबत्ती जलाने की अपील!
 
 
कोरोना से जारी जंग में जहाँ एक तरफ स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता में दुनिया के शीर्ष देशों में अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी और स्पेन को कोरोना का कहर झेलना पड़ रहा है तो वही भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने देशवासियों से कोरोना को लेकर कभी थाली अर ताली बजाने की बात करते है तो कभी घरों की सभी लाइट बंद करके दीया, मोमबत्ती और टॉर्च जलाने की बात करते है। हालांकि पीएम के इन सन्देशों का लोग बखूबी पालन भी करते नजर आए है। लेकिन विपक्ष सहित सोशल मीडिया में लोग इनके इस फैसले की आलोचना भी करते नजर आए है।

 
 
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने एक वीडियो संदेश के माध्यम से 5 अप्रैल को रात 9 बजे घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने को कहा है। लाइट बंद करके टॉर्च मोमबत्ती व दिया जलाने की बात पर प्रधानमंत्री ने कहा कि जब हर व्यक्ति 9 मिनट दीया जलाएगा तो प्रकाश की उस महाशक्ति का एहसास होगा जो कोरोना वायरस के अंधकार से लड़ रहे स्वास्थ्य योद्धाओं के लिए कोरोना को पराजित करने का एहसास होगा।

 
 
प्रधानमंत्री ने देश को संबोधित करते हुए कहा कि इस कोरोना संकट से जो अंधकार और अनिश्चितता पैदा हुई है उसे समाप्त करके हमें उजाले और निश्चितता की तरफ बढ़ना है। इस अंधकारमय कोरोना संकट को पराजित करने के लिए हमें प्रकाश के तेज को चारो दिशाओं में फैलाना है। लेकिन ध्यान रहे कि हमें सोशल डिस्टेंसिंग की सीमा को लाँघना नही है।