Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़ LIVE: कोरोना के कारण अमेरिका और चीन में तना-तनी, क्या होने वाला है विश्वयुद्ध?


दुनिया के करीब 200 देशों में कोरोना फैलाने का जिम्‍मेदार चीन को माना जा रहा है। चीन की इस बात पर भी लोगों को शक है कि यह वाकई में जानवरों से फैला है या उसकी कोई साजिश है। इसी बात को लेकर अमेरिका समेत दुनिया के कई देश चीन पर साजिश का आरोप लगा रहे हैं। ऐसे में अब अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप हर तरह से चीन के खिलाफ आर-पार की लड़ाई के मूड में हैं।
ट्रंप ने साफ कर दिया है कि उनकी जांच एजेंसियां चीन में जाकर इस महामारी का पता लगाना चाहती है। अमेरिका को शक है कि चीन में यह महामारी उसकी लैब से फैली है, लेकिन ड्रैगन अपने देश में किसी भी जांच एजेंसी को दाखिल नहीं होने देने चाहता। चीन के विदेश मंत्री ने भी डब्‍ल्‍यूएचओ को फोन करके इस महामारी के खिलाफ लड़ने में सभी देशों के सहयोग करने की बात कही है। इसके साथ ही उसने कहा है कि हम यह भी पता लगाने में लगे हुए हैं कि आखिर यह महामारी इतनी ज्‍यादा कैसे फैली।
इससे एक बात पूरी तरह से साफ है कि चीन अपने देश में किसी को एंट्री नहीं देना चाहता और वहीं दूसरी तरफ ट्रंप ने साफ कर दिया है कि इस महामारी की जांच को लेकर अमेरिका चीन में अपने कुछ एक्सपर्ट्स को भेजना चाहता है, ताकि वह इस बीमारी की उपज की जांच कर सके। ऐसे में दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। डोनाल्ड ट्रंप ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान चेतावनी भी दी थी कि चीन को इसकी सज़ा भुगतनी होगी।
अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि हमने चीनी अधिकारियों से काफी पहले बात की थी, लेकिन हम अंदर जाना चाहते हैं। हम देखना चाहते हैं कि वुहान में क्या हो रहा है, क्या चल रहा है, लेकिन वे हमारा स्वागत करने को कोई तैयार नहीं हैं। अमेरिका ने अपने स्तर पर इस वायरस को लेकर जांच शुरू कर दी है, अमेरिका इस बात की सच्चाई खोज रहा है कि क्या कोरोना वायरस का जन्म वुहान की एक लैब से हुआ था।
अमेरिकी राष्ट्रपति लगातार कोरोना वायरस को चाइनीज़ वायरस कहते आए हैं। ट्रंप ने कहा कि हमारी जांच में जो भी सामने आएगा, हम उसी के आधार पर एक्शन लेंगे। अगर चीन इसका जिम्मेदार निकलता है, तो वह इसके नतीजे भुगतने के लिए तैयार रहे।