Breaking News

बड़ी खबर LIVE: कोरोना से लड़ने में देश की बड़ी मदद कर रहे हैं ये आदिवासी, रोज बनाते हैं 2000 पीपीई किट


कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ अभियान में जुटे चिकित्सा कर्मियों के लिए जरूरी पीपीई किट राजस्थान के आदिवासी बहुल सागवाड़ा में भी बन रही हैं। यहां कि एक कंपनी हर दिन 2000 किट बना रही है और इस काम में लगे ज्यादातर श्रमिक आदिवासी हैं। इनमें से लगभग आधी आदिवासी महिलाएं हैं।

कंपनी ‘जील सीजनलवियर’ के निदेशक रोहित त्रिवेदी ने बताया कि सरकार से आर्डर मिलने के बाद कंपनी ने दस दिन पहले पीपीई कवरऑल किट बनानी शुरू की थीं। पहले हर दिन 900 किट बन रही थीं अब इसे बढ़ाकर 2000 प्रतिदिन कर दिया गया है।

उन्होंने पीटीआई-भाषा को बताया कि भारत सरकार की ओर से एचएलएल लाइफकेयर लिमिटेड के जरिए कंपनी को एक लाख किट का आर्डर मिला है जिसे वह जितना जल्दी हो सकेगा पूरा करने की कोशिश करेगी। कंपनी ने दस दिन पहले किट बनानी शुरू की थीं। पहले वह 900 किट प्रतिदिन बना रही थी जिसे अब बढ़ाकर 2000 किट कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि राजस्थान के डूंगरपुर जिले में सागवाड़ा एक आदिवासी बहुल इलाका है।