दोस्तों जैसे कि आप ये बात भली-भांति और अच्छे तरीके से जानते है कि देश की सरकार ने कोरोना वायरस जैसी खतरनाक बीमारी को भगाने के लिये काफी बड़े कदम उठाये है। ऐसे में कई बड़े-बड़े टूर्नामेंट और कई सारे काम अटके हुए है। इस वक़्त भारत देश की भलाई इसी में है कि बड़े सम्मान के साथ वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के लिये गए फैसले का समर्थन करें।
कोरोना वायरस इस वक्त पूरी दुनिया के लिए चिंता का विषय बन गया है। हमारे भारत में भी इसका प्रभाव देखने को मिला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के आदेश अनुसार फिलहाल पूरा देश लॉक डाउन कर दिया गया है। देश में इस समय 21 दिन का लॉकडाउन है जो 14 अप्रैल को खत्म होगा जबकि आईपीएल को 15 अप्रैल तक स्थगित किया गया है।
हो सकता है लगभग 3 हजार करोड़ का नुकसान:-
दोस्तों को बता दे कि अगर आईपीएल रद्द होता है तो लगभग 3000 करोड़ रुपए का नुकसान होगा दोस्तों आपको बता दें धोनी और बूंदी जैसे खिलाड़ी प्रभावित होंगे नहीं होंगे साथ ही साथ जो पहली बार खेलने वाली क्रिकेटर्स जिन पर 20, 40, 60 लाख लगभग बोलियां लगी है वह भी प्रभावित होंगे। निश्चित रूप से इन सभी को नुकसान होगा। दोस्तों को सभी उम्मीद करते हैं कि बीसीसीआई के पास कोई ना कोई योजना जरूर होगी जिससे कि आईपीएल हो सके!
आईपीएल फ्रैंचाइजी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा आईपीएल भुगतान का तरीका ऐसा है कि टूर्नामेंट शुरू होने से एक हफ्ते पहले 15% राशि दे दी जाती है। टूर्नामेंट के दौरान 65% दी जाती है। बची हुई 20% टूर्नमेंट खत्म होने के बाद निर्धारित समय के अंदर दी जाती है। दोस्तों आपको बता दें कि अभी किसी भी खिलाड़ी को कोई भी वेतन नहीं दिया गया है।