Breaking News

आयुर्वेद कहता इस उम्र से पहले नहीं करनी चाहिए शादी, हो सकता है नपुंसकता का खतरा


हमारे भारत में सदियों से बाल विवाह की समस्या चलती अा रही है। हालाकिं इस प्रथा को गैर-कानूनी घोषित कर दिया गया है लेकिन अब भी कहीं-कहीं यह प्रथा दिखाई देती है लेकिन क्या अापको पता है कम उम्र में शादी करना अापकी जान के लिए खतरा बन सकता है। नहीं तो आइए जाने कि क्‍यों बाल विवाह या कम उम्र में शादी करना विज्ञान और पुराणों में है वर्जित।
1.आयुर्वेद का कहता 25 की उम्र में हो शादी
आयुर्वेद की माने तो उसने माना है कि मनुष्‍य की आयु लगभग 100 वर्ष होती है जिसमें जीवन को ब्रह्म्चर्य आश्रम, ग्रहस्‍थ आश्रम, वानप्रस्‍थ आश्रम और सन्‍यास आश्रम चार भागों में बांटा गया हैं। आश्रम ब्रहम्चर्य के मुताबिक 25 वर्ष की आयु में ही व्यक्ति का शरीर शादीशुदा जिंदगी का आनंद लेने योग्‍य होता है।
2.छोटी उम्र में प्रजनन क्षमता कम
आयुर्वेद और चिकित्‍सकों का कहना है कि कम उम्र में प्रजनन क्षमता बहुत ही कम होती है क्योंकि इस समय शरीर ऐसे संबंधों के लिए तैयार नहीं होता।
3.यौन समस्‍याओं के पैदा होने की संभावना
विज्ञान और शास्‍त्र के अनुसार 25 की उम्र आते-आते स्‍त्री अौर पुरुष का शरीर यौन संबंधों के लिए तैयार हो जाता है लेकिन इस उम्र से पहले शादी करने या दैहिक संबंध बनाने से कई यौन समस्याएं हो सकती हैं।
4.जल्‍दी आता है बुढ़ापा
कहा जाता है कि समय से पहले यानि 25 का होने से पूर्व ही यौन संबंध बनाने वाले लोगों में बुढ़ापा भी जल्‍दी आ जाता है और तो और कम उम्र में वैवाहिक संबंध बनाने वाले लोग मानसिक रूप से भी कमजोर हो सकते हैं।
5.इंपोटैंसी का खतरा
डाक्‍टर्स का मानना है कि 25 की उम्र से पहले अगर कोई व्यक्ति जरूरत से ज्यादा शारीरिक संबंध बनाता है तो उसके आगे जीवन में उसे कई तरह की बीमारियों के अलावा इंपोटेंसी का भी समना करना पड़ सकता है।