Breaking News

धीरुभाई अंबानी की ये 5 बातें ध्यान में रखने वालों को हमेशा सफलता मिलती है, आप भी जानें


कामयाबी कभी आसानी से नहीं मिलती। और जब बात देश का सबसे अमीर आदमी बनने की हो तो आपको इससे भी एक कदम आगे जाना होता है। धीरूभाई अंबानी (Dhirubhai Ambani) का यही मंत्र था। एक पिता के रूप में धीरूभाई ने यही सीख अपने बेटे मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) को भी दी।
इसी सीख के दम पर आज मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) देश के सबसे अमीर शख्‍स के रूप में जाने जाते हैं। मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के मुताबिक, अपने पिता से सीखी बातों के चलते ही वह आज कामयाबी के इस मुकाम पर पहुंचे हैं। शुरू हुआ धीरूभाई अंबानी स्क्वायर : नीता और मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani) और रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries ) ने हाल में 2 करोड़ मुंबई वासियों को एक नया और गौरवशाली आइकन – धीरूभाई अंबानी स्क्वायर ( Dhiru Bhai Ambani Square) समर्पित किया। ये स्कवायर मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल के सामने स्थित है। धीरूभाई अंबानी स्क्वायर जियो वर्ल्ड सेंटर का हिस्सा है। इस मौके पर नीता अंबानी ने कहा कि धीरूभाई अंबानी स्क्वायर में विशेष म्यूजिकल फाउंटेन कार्यक्रम मुंबई की जीवंत भावना के लिए एक समर्पण है। आगे धीरूभाई की 5 सीख.
1. बिजनेस में रिलेशनशिप नहीं पार्टनरशिप चलती है : रिलायंस Jio की लॉन्चिंग के बाद अपने एक इंटरव्‍यू में मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने कहा था कि धीरूभाई उन्‍हें बेटे की तरह नहीं बल्कि पार्टनर की तरह ट्रीट करते थे। वह कहते थे कि बिजनेस में रिलेशनशिप नहीं पार्टनरशिप चलती है !
2. बिजनेसमैन को पता होता है कि क्या करना है : कोई भी काम शुरू करने से पहले आपको यह पता होना चाहिए कि आपका लक्ष्‍य क्‍या है। तभी आप उस तक पहुंच सकते हैं। बिना लक्ष्‍य के भागने से कुछ हासिल नहीं होता।
3. हमेशा पॉजिटिव रहें : चाहे आप पढ़ें या काम करें, हमेशा पॉजिटिव रहना जरूरी है। इस अप्रोच के साथ जब आप आगे बढ़ेंगे तो आपको सफलता मिलेगी। हो सकता है कि आस-पास कई सारे निगेटिव स्‍वभाव के लोग रहें लेकिन आपको पॉजिटिविटी ही फैलानी है।
4. नाकामियों से डरो मत, उनसे सीखो, कभी हार मत मानो : हर व्‍यक्ति को सफलता और असफलता का सामना करना पड़ता है। इसलिए असफलता से डरना नहीं चाहिए बल्कि डटकर उनका सामना करना चाहिए। मुकेश अंबानी के मुताबिक, उन्‍हें भी बिजनेस में कई बार नाकामी हाथ लगी, लेकिन वे पिता के शब्‍द ही थे, जो उन्‍हें भरोसा देते रहे।
5.तैयार करें अच्‍छी टीम : एक अच्‍छी टीम के बिना आप कुछ नहीं कर सकते हैं। इसलिए अच्‍छे लोगों के साथ टीम बनाना और मेहनत से काम में जुटे रहना, सफलता पाने के लिए बहुत जरूरी है।