Breaking News

59 साल बाद बन रही है ग्रहों की ऐसी युति, इन 4 राशियों के लिए बने धन लाभ के योग


न्याय देवता शनि लगभग 30 वर्ष में अपना राशिचक्र पूरा करते हैं और बृहस्पति इस राशिचक्र को पूरा करने में करीब 12 साल लगाता है. ऐसे में दोनों का एक ही राशि में आना अद्भुत संयोग माना जाता है. 26 अप्रैल (रविवार) को बृहस्पति ग्रह शाम करीब सवा सात बजे मकर राशि में प्रवेश करने जा रहा है. इस राशि में पहले से ही शनि देव विराजमान हैं. ग्रहों की ऐसी युति 59 साल बाद बनने जा रही है. कर्क, कन्या, मकर और मीन राशि के लिए यहां धन लाभ के योग भी बन रहे हैं. आइए आपको बताते हैं कि शनि-बृहस्पति के इस महासंयोग से किन राशियों को आर्थिक लाभ होगा और किन्हें नुकसान झेलना पड़ सकता है.

मेष– नौकरीपेशा लोगों के लिए यह युति शुभ समाचार लेकर आ सकती है. इससे आपके प्रयासों को प्रशंसा मिलेगी और आपका करियर आगे बढ़ेगा. हालांकि आपके सामने खर्चे नियंत्रित करने की चुनौती होगी. इस युति के प्रभाव से आपके पारिवारिक जीवन में समस्याएं आ सकती हैं. व्यापारी वर्ग के लोगों को भी थोड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता है.

वृषभ- नौकरीपेशा लोगों के लिए यह समय काफी परिवर्तन लेकर आने वाला है. इनकी नौकरी में व्यापक तौर पर बदलाव का समय रहेगा. इनका कहीं दूर ट्रांसफर अथवा नौकरी बदलने का समय भी यही होगा. हालांकि धन को लेकर कोई बड़ी समस्या नहीं रहेगी. खर्चे भी नियंत्रित रहेंगे.

मिथुन- धन के मामले में यह युति बिल्कुल सही नहीं है. इस समय में धन की हानि हो सकती है. किसी भी अंजान व्यक्ति को उधार देने से बचें. प्रॉपर्टी में भूलकर भी निवेश न करें. कमाई के मामले में भी आपको थोड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता है. तकरीबन नवंबर तक आपकी दशा ऐसी ही रहने वाली है.

कर्क- इस युति के बाद व्यापारी वर्ग के लोगों को उत्तम धन लाभ की प्राप्ति होगी. रुपये-पैसे की तंगी सिर से टलेगी. इस समय में आपके व्यापार का विस्तार होगा और आपकी दूरदर्शिता आपके काम आएगी. आपका स्वास्थ्य भी मजबूत बनेगा तथा दांपत्य जीवन में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनेगी.

सिंह– सिंह राशि के जातकों के लिए यह युति आर्थिक रूप से सामान्य रहने वाली है. हालांकि घर के सदस्यों की बीमारी पर कुछ पैसा खर्च हो सकता है. आपको अपच, एसिडिटी, गैस, गुर्दों में समस्या या मूत्र संबंधित रोग हो सकते हैं. किसी भी विवाद में पड़ने से बचना होगा.

कन्या- कन्या राशि के जातकों के लिए यह ग्रहों की यह युति शुभ संकेत लेकर आएगी. आपकी आमदनी में अच्छी वृद्धि देखने को मिलेगी और समाज में आपका स्थान मजबूत होगा. कुछ लोगों के लिए नौकरी छूटने और उसके बाद दोबारा नौकरी मिलने के योग बनेंगे. कई परिस्थितियों में खुद आपके पास अच्छे विकल्प चलकर आएंगे.

तुला– शनि-बृहस्पति की यह युति आपके परिवार में उथल-पुथल मचा सकती है. इस समय काल में आपके गृह परिवर्तन के योग बनेंगे. व्यापारिक मामलों में भी झटका लग सकता है. प्रॉपर्टी में निवेश किया गया पैसा कहीं फंस सकता है. किसी को उधार देने से बचें. नौकरीपेशा लोगों की कमाई के साधनों में सब सामान्य ही रहने वाला है.

वृश्चिक- धार्मिक कार्यक्रमों में आपकी रुचि काफी बढ़ेगा और इसमें आपकी काफी धन भी खर्च हो सकता है. आप आध्यात्म की तरफ झुकाव होगा और धार्मिक कार्यों में हिस्सा लेंगे. यश और कीर्ति की प्राप्ति होगी. आलस्य के कारण नौकरी और व्यापार में घाटा हो सकता है. खर्चे भी काफी ज्यादा बढ़ सकते हैं.

धनु- शनि-गुरु के इस महासंयोग के बाद धनु राशि के जातकों के खर्चे अचानक बढ़ सकते हैं. स्वास्थ्य के मामले में आपका खर्च ज्यादा होगा आपको अपने स्वास्थ्य का थोड़ा ध्यान रखना होगा क्योंकि बीमार पड़ने की संभावना बन सकती है. हालांकि अच्छी बात ये है कि रुपये-पैसों के मामले में संकट नहीं होगा.

मकर- मकर राशि के जातकों के लिए आर्थिक रूप से शनि-गुरु की यह युति काफी शुभ मानी जा रही है. आपको नौकरी में तरक्की के साथ इनकम के अन्य स्रोत भी मिल सकते हैं. व्यापार के मामले में यह युति आपके लिए अधिक फायदेमंद रहेगी. हालांकि किसी भी नए व्यापार में पैर डालने के लिए यह अच्छा समय नहीं है.

कुंभ- कुंभ राशि के जातकों की आर्थिक स्थिति नवंबर तक डामाडोल रह सकती है. आपके खर्चों में अचानक से बढ़ोतरी देखने को मिलेगी. आपको कोर्ट कचहरी और स्वास्थ्य के मामलों में अधिक धन खर्च करना पड़ सकता है. व्यापारी वर्ग को भी घाटा झेलना पड़ सकता है.

मीन- शनि-गुरु की इस युति से आपकी आमदनी में जबरदस्त वृद्धि होने के योग बन रहे हैं. इस दौरान नौकरीपेशा लोगों को कोई बड़ा पद भी प्राप्त हो सकता है. व्यापारी वर्ग के लोगों को भी लाभ मिलेगा. हालांकि प्रॉपर्टी में निवेश करने से बचने की जरूरत है. शिक्षा के क्षेत्र में यह युति आपको उचित परिणाम प्रदान करेगी.