Breaking News

डेरा सच्चा सौदा का हैरान करने वाला खुलासा, क्या सच में गुरमीत राम रहीम को 2012 में ही लग गई थी कोरोना वायरस की भनक

पूरी दुनिया कोरोना से जूझ रही है. डॉक्टर्स दिन-रात एक कोरोना पीड़ितों को ठीक करने में लगे हैं. सरकार कोरोना को नियंत्रित करने की कोशिशों में लगी हुई है. लोग भी कोरोना से बचने के लिए घर में कैद हैं. लेकिन एक ऐसी खबर सामने आई है जो आपके होश उड़ा देगी. 

कोरोना वायरस को लेकर डेरा सच्चा सौदा ने किया हैरान करने वाला दावा
 
 
डेरा सच्चा सौदा ने एक ऐसा दावा किया है. जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे. ये दावा डेरा के ऑफिशल वेबसाइट में एक आर्टिकल के जरिए किया गया है. 'पूरी दुनिया को हिलाकर रखने वाले वायरस से खुद को कैसे सुरक्षित रखें' इस आर्टिकल में ऐसा ही कुछ दावा है जो आप सोच भी नहीं सकते.
सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के विवादित प्रमुख गुरमीत राम रहीम ने दावा किया है कि उन्हें आठ साल पहले 2012 में ही इस बीमारी की आहट सुनाई दे गई थी. पिछले महीने डेरा के ऑफिशल वेबसाइट 'पूरी दुनिया को हिलाकर रखने वाले वायरस से खुद को कैसे सुरक्षित रखें' नामक आर्टिकल में ऐसा दावा किया गया है.

 
 
आर्टिकल में लिखा है कि कोरोना वायरस से खुद को बचाने के लिए आप हाथ धोते रहे. ये एक बेसिक उपाय है. आर्टिकल में आगे लिखा है कि राम रहीम ने 2012 में सबसे अधिक लोगों के हैंड सैनिटाइज करने का वर्ल्ड रेकॉर्ड सेट किया था.
हम देख सकते हैं कि गुरुजी उस समय ही इस आपदा की आहट को जान गए थे. उन्होंने अपने अनुयायियों में इस आदत को डाल दिया था. इस बात को साबित करने के लिए बेवसाइट में एक लिंक भी दिय़ा गया है. जिसमें एक इवेंट में 7675 लोगों द्वारा हाथ सैनिटाइज कर रेकॉर्ड सेट करने का जिक्र है.

 
 
आर्टिकल में राम रहीम के टिप्स को फॉलो करने की सलाह देते हुए कहा गया है, 'गुरुजी संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी दशकों से बीमारी की वजह से होने वाली मौत को लेकर चेतावनी दे रहे है.