Breaking News

लॉकडाउन से प्रभावित मजदूरों के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया इतना बड़ा फैसला, पूरा देश कर रहा तारीफ

जैसा कि आप सभी जानते हैं पूरे देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को खत्म करने के लिए लॉक डाउन कर दिया गया है। इस लॉक डाउन का है असर सबसे अधिक दिहाड़ी मजदूरी करके जीवन यापन करने वाले लोगों पर और नीचे स्तर के लोगों पर अधिक पढ़ रहा है।

कोरोना की जंग में राजस्थान सरकार ने लिया एक और अहम फैसला, आप भी जरूर जानें
 
 
इन सब को ध्यान में रखते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 310 करोड़ की राशि जारी की है। यह राशि उन लोगों के अकाउंट में 1-1 हजार रुपए के रूप में डाली जाएगी जो लोग रोजी-रोटी से वंचित है। बता दें कि जिन परिवारों को यह सहायता प्राप्त होगी उनमें बीपीएल, स्टेट बीपीएल और अंत्योदय योजना के तहत आने वाले परिवार शामिल होंगे।

 
 
इन लोगों के अलावा यह राशि अन्य श्रमिक, स्ट्रीट वेंडर्स, पंजीकृत निर्माण श्रमिकों, रिक्शा चालकों व असहाय जरूरतमंद लोगों को दी जाएगी। जो लोग सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं। यदि किसी का बैंक अकाउंट नहीं है तो यह राशि कलेक्टर द्वारा नकद प्रदान की जाएगी।

 
 
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कलेक्टर्स को अतिरिक्त राशि प्रदान की गई है जो इस प्रकार है- जयपुर कलेक्टर को एक करोड़, अन्य संभागीय मुख्यालयों के कलेक्टरों को 75-75 लाख रुपए वह शेष जिलों के कलेक्टरों को 50-50 लाख रुपए की राशि दी गई है।

दोस्तों, आपका उपरोक्त लेख पर क्या विचार है? आप इनके बारे में क्या सोचते हैं? नीचे टिप्पणी अनुभाग के अपने मूल्यवान विचारों को शेयर करना ना भूले।