Breaking News

इन 3 आसान तरीकों से आप भी घर पर बना सकते हैं आयुर्वेदिक हैंड सैनिटाइजर

कोरोनावायरस से बचने के लिए डॉक्टर बार-बार हाथ साफ करने की सलाह दे रहे हैं। इसी कारण प्रक्षालक/सैनिटाइजर का इस्तेमाल काफी बढ़ गया है और हैंड सैनिटाइजर का कालाबाजार इन दिनों बदस्तूर चल रहा है। जिसके परिणामस्वरुप 50 रुपए का सैनिटाइजर 200-400 रुपये मे बिक रहा है जिसे हर व्यक्ति खरीद भी नहीं सकता। वहीं कुछ मेडिकल पर सैनिटाइजर (आउट ऑफ स्टॉक)उपलब्ध नहीं हैं।
दुनिया भर में फैल रहे कोरोना वायरस के इस प्रकोप से बचने के लिए मास्क और सैनिटाइजर का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जा रहा है और यही एक वजह है कि बहुत ज्यादा बिक्री कि वजह से या तो केमिस्ट इन्हे मंहगे रेट में बेच रहे है या फिर ये उपलब्ध ही नहीं हैं। ऐसे में बाबा रामदेव ने इंडिया टीवी पर घरेलू आयुर्वेदिक हैंड सैनिटाइजर बनाने का तरीका बताया है। इसके जरिए आप चुटकियों में घर बैठे कोरोना से बचने के लिए हैंड सैनिटाइजर बना सकते हैं। बाबा रामदेव ने पूरी तरह रिसर्च के बाद इस घरेलू और आयुर्वेदिक हैंड सैनिटाइजर को प्रामाणिक बताया गया है। उनका कहना है कि ये बिलकुल हर्बल है औऱ इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। आइए जानते हैं कि कैसे बनाएं घरेलू हैंड सैनिटाइजर।
1.वो और कुछ नहीं आसानी से उपलब्ध "फिटकरी" है अर्थात् हाइड्रेटेड पोटॅशियम अ‍ॅल्युमिनियम सल्फेट जिसका रासायनिक सूत्र K2SO4 Al2(SO4)3.24H2O) है।

घरेलू आयुर्वेदिक हैंड सैनिटाइजर बनाने का तरीका क्या है? जानिए
 
 
  • जब आप फिटकरी के पानी से अपने हाथों को धोते हैं,स्नान मे उपयोग करते है या पीते हैं तब कोई भी विषाणु आपके शरीर में (अंदर या बाहर) जिंदा नहीं बचते।
  • गरम पानी में फिटकरी डालकर कुल्ले करने से गले और मुहं के विषाणु नष्ट होते हैं। इसलिए फिटकरी का इस्तेमाल करें और स्वस्थ रहे।
2. इसके अलावा नीम और तुलसी को पानी में उबाल ले। उसके पानी को छानने के बाद उसमे फिटकरी का पावडर मिलाकर सैनिटाइजर के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

 
 
3.एक भाग एलोवेरा जेल में तीन भाग आइसोप्रोपिल एल्कोहल मिलाएं। खुशबू के लिए इसमें कुछ बूंदें टी ट्री ऑयल की मिलाएं। इसके बाद जेल इस्तेमाल के लिए तैयार हो जाएगा।[1]
99 प्रतिशत आइसोप्रोपिल एल्कोहल वाला मिश्रण उपयोग करना सबसे बेहतर होता है। पीने वाली शराब जैसे, वोदका, व्हीसकी आदि इसमें असरकारक नहीं होतीं।

 
 
कुछ जरूरी सावधानियां :
  • जिन चीजों का उपयोग आप इस लिक्विड को मिक्स करने और स्टोर करने में करें, वह अच्छी तरह से साफ हों।
  • बच्चो को सावधानी पूर्वक इस्तेमाल करने के लिए समझाए।
  • सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुताबिक, सैनेटाइजर को असरकारक बनाना है तो इसमें कम से कम 60 प्रतिशत एल्कोहल(आइसोप्रोपील) होना चाहिए।