Breaking News

मोदी सरकार ने कर ली है तैयारी, 1 अप्रैल से शुरू हो जाएगी छात्रों की पढ़ाई


लॉक डाउन के बीच 1 अप्रैल से शुरू हो जाएगी छात्रों की पढ़ाई, मोदी सरकार ने कर ली है तैयारी
 
 
देश में कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए मोदी सरकार ने शुरुआत में ही स्कूल, कॉलेज, जिम, पार्क व अन्य सार्वजनिक स्थलों में लोगों की जाने से रोक लगा दी थी। इसके बाद केंद्र सरकार ने 22 मार्च को 'जनता कर्फ्यू' की अपील करने के बाद देश में 21 दिनों का लॉक डाउन करने का आदेश दिया, जो कि 14 अप्रैल तक जारी रहेगा। विद्यालय व कॉलेज बंद होने के कारण छात्रों की पढ़ाई को नुकसान हो रहा है। इस बात को ध्यान में रखते हुए, लॉक डाउन के बीच 1 अप्रैल से पढ़ाई शुरू करने के लिए मोदी सरकार ने तैयारी कर ली है।

 
 

सरकार की तैयारी...

लॉक डाउन के कारण छात्रों की पढ़ाई को कोई नुकसान ना पहुंचे, इसके लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय एनसीईआरटी, सीबीएसई व एनआईओएस के साथ मिलकर इस पूरी योजना को अंतिम रूप देने में जुटा हुआ है। योजना से जुड़े मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक सभी स्कूलों को इसे लेकर तैयार रहने को कहा गया है। साथ ही शिक्षकों को भी अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया गया है।

 
 

कैसे लगेगी लॉक डाउन मे कक्षाएं?

देश में लागू 21 दिनों के लंबे लॉकडाउन के कारण घरों में ऊब रहे स्कूली बच्चों के लिए राहत भरी खबर है । एक अप्रैल से उनकी कक्षाएं शुरू हो जाएगी। हालांकि यह स्कूल में नहीं बल्कि घरों में ही लगेंगी। इन कक्षाओं को वे टीवी , यू - ट्यूब चैनेल सहित दूसरे ऑनलाइन माध्यमों से अटेंड कर सकेंगे। किस विषय की क्लास कब लगेगी और कौन सा चैप्टर कब पढ़ाया जाएगा, इस बारे में सारी जानकारी स्कूल अपने बच्चों को मोबाइल मैसेज और मेल के जरिए देगा। छात्रों की सहायता के लिए एक टोल फ्री नंबर भी जारी किया जाएगा, ताकि किसी तरह का संदेह होने पर वह सीधे संपर्क कर सके।
आपको क्या लगता है, मोदी सरकार द्वारा लिया गया ये फैसला कैसा है? अपनी राय कमेंट में बताएं और न्यूज शेयर करें।